ताज़ा खबर
 

MCD Polls 2017: तीन अप्रैल को नामांकन दाखिल करने के लिए तीन घंटे का विस्तार

दिल्ली निर्वाचन आयोग ने आज छुट्टी के चलते कोई नामांकन दाखिल नहीं होने के मद्देनजर तीन अप्रैल को इसके लिए आखिरी तिथि के दिन नामांकन दाखिल करने के लिए समय तीन घंटे बढ़ा दिया है।

दिल्ली निर्वाचन आयोग ने आज छुट्टी के चलते कोई नामांकन दाखिल नहीं होने के मद्देनजर तीन अप्रैल को इसके लिए आखिरी तिथि के दिन नामांकन दाखिल करने के लिए समय तीन घंटे बढ़ा दिया है।

दिल्ली निर्वाचन आयोग ने आज छुट्टी के चलते कोई नामांकन दाखिल नहीं होने के मद्देनजर तीन अप्रैल को इसके लिए आखिरी तिथि के दिन नामांकन दाखिल करने के लिए समय तीन घंटे बढ़ा दिया है। नामांकन पत्र सोमवार को पूर्वाह्न 11 बजे से शाम छह बजे तक दाखिल किए जा सकेंगे। प्रक्रिया पहले अपराह्न तीन बजे समाप्त होनी तय थी। निर्वाचन आयोग ने यह निर्णय भाजपा और आप की ओर से अनुरोध प्राप्त होने के बाद दिल्ली नगर निगम (पार्षद चुनाव) नियम 2012 के तहत किया।  दिल्ली भाजपा का एक प्रतिनिधिमंडल निर्वाचन आयोग के अधिकारी से इस संबंध में मुलाकात के लिए गया था। वहीं आप की ओर से भी नामांकन पत्र दाखिल करने का समय बढ़ाने के संबंध में एक अर्जी दी गई थी। राज्य निर्वाचन आयुक्त एस. के. श्रीवास्तव ने डीएमसी कानून 1957 के तहत अपने अधिकारों का इस्तेमाल करते हुए नामांकन पत्र दाखिल करने का समय बढ़ाने का निर्देश दिया। राज्य निर्वाचन आयोग के आदेश में सभी निर्वाचन अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि वे अपने कार्यालय में शाम छह बजे तक आने वालों को मुहर और हस्ताक्षर वाले कूपन जारी करें और उन्हें अपने कागजात प्रस्तुत करने की इजाजत दें और उन्हें, उसे स्वीकार करते हुए रसीद जारी करें। आज और कल यानी रविवार दो दिन लगातार छुट्टी के चलते नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया प्रभावित हुई।नामांकन के अंतिम दिन तीन घंटे का विस्तार मिलने से उम्मीदवारों , विशेष तौर पर भाजपा और कांग्रेस के उम्मीदवारों को बहुत कम राहत मिलने की संभावना है क्योंकि दोनों पार्टियों ने अभी तक अपने उम्मीदवारों की सूची जारी नहीं की है।

दिल्ली के एमसीडी चुनावों के लिए सभी राजनीतिक पार्टियों ने कमर कस ली है। आम आदमी पार्टी (आप) इन चुनावों के लिए 40 स्टार प्रचारकों को उतारने जा रही है। उधर, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) 2015 में विधानसभा चुनावों में हारे उम्मीदवारों को आजमाने जा रही है।  बुधवार को राज्य निर्वाचन आयोग को आप द्वारा 40 स्टार प्रचारकों की सूची सौंपी गई है। इनमें मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, नेता कुमार विश्वास, संजय सिंह, श्रम मंत्री गोपाल राय और जल संसाधन मंत्री कपिल मिश्रा के नाम शामिल हैं। इनके अलावा सांसद संधु सिंह और भगवंत मान, पंजाब के आप विधायक एचएस फूलका का भी नाम है। अरविंद केजरीवाल दो से तीन दर्जन चुनाव प्रचार सभाएं करने की तैयारी कर रहे हैं।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इन चुनावों में बीजेपी 2015 विधानसभा चुनावों में हारे विधायकों को आजमाने जा रही है। बीजेपी का कहना है कि वे अपने चुनाव क्षेत्र की अच्छी समझ रखते हैं, इसलिए उन्हें प्रचार के लिए मैदान में उतारा जाएगा। यह कयास भी लगाए जा रहे हैं कि बीजेपी इन हारे हुए विधायकों को पार्षद की उम्मीदवारी के टिकट दे सकती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 सभा के दौरान लगे ‘मोदी-मोदी’ के नारे तो अरविंद केजरीवाल बोले- ये नारे लगाने से पेट नहीं भरता, पागल हो गए हैं लोग
2 चार युवकों पर केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी की कार का पीछा करने का आरोप, पुलिस में शिकायत दर्ज
3 40 हजार करोड मांग रहे तमिलनाडु के किसानों को नरेन्द्र मोदी सरकार ने दिये 1700 करोड रुपये