ताज़ा खबर
 

एमसीडी चुनाव 2017: भाजपा का दावा- आप के सर्वे में हमें मिल रही हैं 202 सीटें, इससे केजरीवाल डर गए

भाजपा 10 साल से एमसीडी की सत्‍ता में काबिज है। इस बार दिल्‍ली में भाजपा, कांग्रेस और आप के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है।

bjp,इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (फाइल फोटो)

दिल्‍ली में एमसीडी चुनावों से पहले भाजपा ने आम आदमी पार्टी (आप) पर हमला बोलते हुए कहा कि वह अपने इंटरनल सर्वे को सार्वजनिक नहीं कर रही है क्‍योंकि इसमें भाजपा को 202 सीटें मिल रही हैं। दिल्‍ली भाजपा के प्रवक्‍ता तेजिंदर पाल बग्‍गा ने दावा किया कि आप के अंदरुनी सर्वे में भाजपा को 202 सीटें मिल रही हैं। इसके चलते आप ने चुनाव से पहले अपना सर्वे रिलीज नहीं किया। बग्‍गा ने सोमवार (17 अप्रैल) रात को ट्वीट किया, ”अरविंद केजरीवाल के अंदरुनी सर्वे में भाजपा 202 सीटें जीत रही हैं इसीलिए पहली बार वे चुनाव से पहले अपना सर्वे रिलीज नहीं कर रहे। केजरीवाल जी डर गए हैं।” एमसीडी चुनाव 23 अप्रैल को होने हैं और 26 तारीख को इसके नतीजे घोषित किए जाएंगे। भाजपा 10 साल से एमसीडी की सत्‍ता में काबिज है। इस बार दिल्‍ली में भाजपा, कांग्रेस और आप के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है।

वहीं एनडीटीवी इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार आप दो-तीन दिन में सर्वे को जारी कर सकती है। उसने पांच से 15 अप्रैल के बीच यह सर्वे कराया है और करीब 31 हजार लोगों से उनकी राय जानी गई है। आप एमसीडी में भाजपा के 10 साल के कार्यकाल को मुद्दा बनाते हुए मैदान में हैं। वहीं भाजपा केजरीवाल सरकार के दो साल के कामकाज को निशाना बना रही है। साथ ही वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि को भी भुनाने की कोशिश में लगी है। कांग्रेस सरकार चलाने के अपने अनुभव को गिनाते हुए चुनौती दे रही है। दिल्ली में उत्‍तरी, दक्षिणी और पूर्वी ये तीन नगर निगम हैं। इनमें एनडीएमसी और एसडीएमसी में 104-104 वार्ड हैं। वहीं ईडीएमसी में 64 वार्ड हैं।

2015 में हुए दिल्‍ली विधानसभा चुनावों में आप ने 70 में से 67 सीट जीतकर सरकार बनाई थी। भाजपा को इन चुनावों में केवल तीन सीट मिली थी तो कांग्रेस का सफाया हो गया था। लेकिन हाल ही में राजौर गार्डन उपचुनाव को जीतकर भाजपा ने आप के लिए मुश्किलें खड़ी कर दी है। यहां पर आप तीसरे पायदान पर रही थी और उसके उम्‍मीदवार की जमानत भी जब्‍त हो गई थी। आप विधायक जरनैल सिंह के इस्‍तीफा देने के बाद यह सीट खाली हो गई थी। जरनैल सिंह ने पंजाब विधानसभा का चुनाव लड़ने के लिए दिल्‍ली विधानसभा से इस्‍तीफा दिया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 योगी राज में मुस्तैद हुई उत्तर प्रदेश पुलिस, साल भर से अगवा 27 लड़कियों को 72 घंटे में ढूंढा
2 शिमला के बुक कैफे में कैदी परोसते हैं पिज्जा, जेल से बाहर आने पर कैदियों को मिलेगा नौकरी मौका
3 जम्मू एवं कश्मीर में पाकिस्तान की ओर से चली गोलीबारी में जवान की मौत
यह पढ़ा क्या?
X