ताज़ा खबर
 

मायावती की पार्टी बसपा में जल्द मचेगी भगदड़ और इसे कोई नहीं रोक सकताः नसीमुद्दीन सिद्दीकी

राष्ट्रीय बहुजन मोर्चा के अध्यक्ष नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कहा कि बहुजन समाज पार्टी (बसपा) में जल्द ही भगदड़ मचने वाली है। उन्होंने कहा कि पार्टी के कई प्रदेशों के प्रभारी उनके संपर्क में हैं।

Author लखनऊ | August 3, 2017 10:32 PM
राष्ट्रीय बहुजन मोर्चा के अध्यक्ष नसीमुद्दीन सिद्दीकी

राष्ट्रीय बहुजन मोर्चा के अध्यक्ष नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कहा कि बहुजन समाज पार्टी (बसपा) में जल्द ही भगदड़ मचने वाली है। उन्होंने कहा कि पार्टी के कई प्रदेशों के प्रभारी उनके संपर्क में हैं। वे सभी लोग एक साथ जल्द बसपा छोड़ सकते हैं। यहां एक होटल में गुरुवार को राष्ट्रीय बहुजन मोर्चा के पहले कार्यक्रम में सिद्दीकी के निशाने पर बसपा अध्यक्ष मायावती ही रहीं। बसपा से निकाले जाने के बाद सिद्दीकी ने इस मोर्चे का गठन किया है।

कार्यक्रम के बाद पत्रकारों से बातचीत में सिद्दीकी ने कहा, “बसपा में पार्टी अध्यक्ष मायावती और राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा की गलत कार्यप्रणाली के चलते भगदड़ मची है। बसपा के कई प्रदेशों के प्रभारी व प्रमुख नेता मेरे संपर्क में हैं, जो जल्दी ही पार्टी छोड़ देंगे। उन्होंने कहा, “मायावती की बसपा पर पकड़ ढीली हो गई है। वह विधानसभा चुनाव में मिली करारी हार से अभी भी सदमे में हैं। बसपा में अभी और बिखराव होना तय है। इसे कोई नहीं रोक सकता।”

नसीमुद्दीन ने कहा कि कल (बुधवार) इंद्रजीत सरोज ने पार्टी को छोड़ दिया। वह भी धन के दोहन को लेकर बेहद परेशान थे। बसपा से अभी और लोग बाहर होंगे। उन्होंने कहा कि मायावती ने उन पर जो भी आरोप लगाए हैं वह बेबुनियाद हैं। उन्होंने हमेशा बसपा को बढ़ाने का काम किया था।

सिद्दीकी के पुत्र अफजल सिद्दीकी ने कहा, “पार्टी की अगली बैठक मुजफ्फनगर में और उसके बाद मेरठ में होगी। जबकि रविवार को दिल्ली में एक बड़े कार्यक्रम का आयोजन किया गया है, जिसमें 17 छोटी पार्टियां और बसपा के संस्थापक कांशीराम के छोटे भाई दलबारा सिंह भी शामिल होंगे। आठ अगस्त को आगरा में एंटी मायावती फोर्सेस का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।  सिद्दीकी से गुरुवार को बसपा के एहसान कुरैशी और अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व अध्यक्ष लियाकत अली ने मुलाकात की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App