ताज़ा खबर
 

लखनऊ : सपा-बसपा गठबंधन ने कांग्रेस के लिए छोड़ीं सिर्फ दो सीटें, मायावती ने बताई यह वजह

लखनऊ में संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला। साथ ही, कांग्रेस से यूपी में गठबंधन नहीं करने की बात भी कही। मायावती ने कहा, ‘‘हम अपने गठबंधन में कांग्रेस को शामिल नहीं करेंगे। हालांकि, उनके लिए रायबरेली और अमेठी सीट जरूर खाली छोड़ेंगे।’’

Author January 12, 2019 1:42 PM
SP-BSP Alliance: पत्रकारों के सवालों के जवाब देतीं मायावती। (फोटोः जनसत्ता ऑनलाइन)

लखनऊ में संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला। साथ ही, कांग्रेस से यूपी में गठबंधन नहीं करने की बात भी कही। मायावती ने कहा, ‘‘हम अपने गठबंधन में कांग्रेस को शामिल नहीं करेंगे। हालांकि, उनके लिए रायबरेली और अमेठी सीट जरूर खाली छोड़ेंगे।’’

राहुल गांधी को न उलझा सकें बीजेपी के लोग : मायावती ने कहा, ‘‘अमेठी और रायबरेली की लोकसभा सीट कांग्रेस के लिए बिना गठबंधन किए छोड़ दी गई हैं। यह कदम इसलिए उठाया गया, ताकि बीजेपी के लोग कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी को यहीं उलझाकर न रख सकें। कांग्रेस से गठबंधन करके हमें फायदा नहीं मिलता, बल्कि कांग्रेस को हमारे वोट ट्रांसफर हो जाते हैं। हमारा वोट प्रतिशत घट जाता है।’’

बीजेपी पर जमकर बोला हमला : मायावती ने कहा, ‘‘इस वक्त देश में इमरजेंसी से भी खराब हालात हैं, जिसकी जिम्मेदारी बीजेपी है। वह सरकारी एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है। मुझे उम्मीद है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को 1977 में कांग्रेस से भी बुरी हार का सामना करना पड़ेगा। यह प्रेस कॉन्फ्रेंस गुरु-चेले पीएम मोदी और अमित शाह की नींद उड़ा देगी। देश और जनहित को लखनऊ गेस्ट हाउस कांड से ऊपर रखते हुए हमने चुनावी समझौता करने का फैसला किया है। बीजेपी की किसान-व्यापारी विरोधी नीतियों, अहंकारी और तानाशाही वाले रवैये से जनता दुखी है।’’

राफेल का भी जिक्र किया : मायावती बोलीं, ‘‘कांग्रेस और बीजेपी दोनों शासनकाल में रक्षा सौदों में घोटाला किया गया। राफेल घोटाले के कारण बीजेपी 2019 के चुनाव में हारेगी। बीजेपी के लोग अपनी सरकारी मशीनरी का जबर्दस्त उपयोग कर रहे हैं। बसपा-सपा का गठबंधन बीजेपी का रास्ता रोक लेगा।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App