ताज़ा खबर
 

मौर्य एक्सप्रेस की बोगी में घुसा पटरी का टुकड़ा, एक की मौत, दो जख्मी

बिहार के लखीसराय जिले से होकर गुजर रही एक ट्रेन की बोगी के भीतर पटरी का दस मीटर लंबा टुकड़ा घुस गया।
Author भागलपुर | April 15, 2018 03:42 am

बिहार के लखीसराय जिले से होकर गुजर रही एक ट्रेन की बोगी के भीतर पटरी का दस मीटर लंबा टुकड़ा घुस गया। पटरी का यह टुकड़ा रेल लाइन के किनारे रखा हुआ था। इस घटना में एक व्यक्ति की मौत हो गई और दो अन्य घायल हो गए। यह हादसा रांची हटिया से गोरखपुर जा रही मौर्य एक्सप्रेस के क्युल लखीसराय स्टेशन से गुजरने के दौरान हुआ। यह वाकया शनिवार तड़के करीब तीन बजे का है। जमालपुर रेल एसपी आमिर जावेद के मुताबिक लखीसराय में मौर्य एक्सप्रेस की एक अनारक्षित बोगी में टूटी पटरी का एक हिस्सा बोगी के निचले हिस्से को फाड़ कर घुस गया। रेल एसपी ने हादसे के पीछे किसी नक्सली गतिविधि की बात को सिरे से खारिज किया है। पटना से फॉरेंसिक जांच के लिए विशेषज्ञों का दल पहुंच चुका है। जो घटना की गहराई से जांच कर रहे हैं।

जबकि हादसे को लेकर पूर्वी मध्य रेलवे की तरफ से आधिकारिक बयान में नक्सली साजिश की बात कही गई है। आसनसोल क्युल रेलखंड जहां हादसा हुआ है वह दानापुर रेल मंडल में पड़ता है। वहां के डीआरएम ने बताया कि हादसे के पीछे नक्सलियों का हाथ हो सकता है। बोगी में करीब 10 मीटर लंबी पटरी का एक टुकड़ा घुस गया। इसमें एक शख्स की मौत हो गई और दो अन्य घायल हैं। टूटी हुई पटरी का टुकड़ा रेलवे ट्रैक का नहीं है।

रेलवे के एसपी बताते है कि रेल पटरियों की मरम्मत का काम चल रहा है। वहीं बगल में लोहे का एक लंबा टुकड़ा पड़ा था। जो ट्रेन की बोगी के निचले हिस्से में फंस गया। लगता है काफी दूर ट्रेन घसीटते हुए उसे ले गई और नीचे से फाड़ कर वह टुकड़ा ट्रेन की बोगी में घुस गया। जिससे आजमगढ़ के मंगल सेठ नाम के मुसाफिर की मौत हो गई। और दो जख्मी हो गए। जिनमें से एक को पटना और एक का इलाज लखीसराय में चल रहा है। वे खतरे से बाहर नहीं है। हालत नाजुक बनी है।
एसपी ने बताया कि हादसे के बाद कुछ देर तक रेल मार्ग ठप रहा। इस दौरान झाझा-किऊल रेलवे लाइन पर ट्रेनों का परिचालन ठप रहा लेकिन फिर स्थिति सामान्य हो गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App