ताज़ा खबर
 

यूपीः बीजेपी कार्यकर्ताओं से ASP ने जोड़े हाथ, कहा-ऐसा कुछ नहीं करेंगे कि हमें यहां से जाना पड़े

बीजेपी कार्यकर्ताओं ने कोपागंज जनपद मऊ के थानाध्यक्ष रामकृष्ण द्विवेदी सहित दो एसआई के ऊपर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है। इसके साथ ही बीजेपी कार्यकर्ता कोपागंज थाने के सामने धरना प्रदर्शन भी कर रहे हैं।

तस्वीर का प्रयोग प्रतीक के तौर पर किया गया है।

उत्तर प्रदेश के मऊ में अपर पुलिस अधीक्षक (एएसपी) शैलेंद्र कुमार श्रीवास्तव बीजेपी कार्यकर्ताओं के आगे हाथ जोड़ने पर मजबूर हो गए। इस घटना का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें शैलेंद्र कुमार बीजेपी कार्यकर्ताओं से किसी मुद्दे पर बात करते और हाथ जोड़ते नजर आ रहे हैं। भारत समाचार के मुताबिक एसओ कोपागंज रामकृष्ण द्विवेदी को लेकर एएसपी बीजेपी कार्यकर्ताओं से बात कर रहे थे। हाथ जोड़ने के साथ ही शैलेंद्र श्रीवास्तव बीजेपी कार्यकर्ताओं के आगे यह कहते दिखे कि वह ऐसा कुछ भी नहीं करेंगे कि जिससे उन्हें यहां से जाना पड़े।

एएसपी शैलेंद्र ने कहा, ‘गंदगी ऐसी हो गई है इस जमाने में कि इन गधों को जहां नहीं जाना चाहिए वो होता है, कुछ न कुछ ऐसा लग जाता है कभी अपने लिए कभी अपने साथियों के लिए, कभी अपने कार्यकर्ताओं के लिए जाना पड़ता है और इस बात के लिए यह व्यवस्था बनाई गई है।’ इतना बोलने पर बीजेपी कार्यकर्ता द्वारा कोई सवाल किया गया, जिस पर एएसपी ने कहा, ‘…आपकी बात सुन रहे हैं, जो आप कह रहे हैं वह सब हो जाएगा। मेरा केवल इतना अनुरोध है… अध्यक्ष जी से मेरी बात हुई है कागजी कार्रवाई करेंगे और बिना किए नहीं जाएंगे… हम सब करवा देंगे।’

एएसपी ने आगे कहा, ‘हमारा खुद का तय नहीं है हम यहां अच्छी बात कर रहे हैं तो बैठे हुए हैं, टेठी बात कर देंगे तो हटा देंगे…. डीएम देवरिया से गलती हुई तो वो चले गए… तो ऐसा कुछ हम नहीं करेंगे कि हम यहां से जाएं।’ बता दें कि बीजेपी कार्यकर्ताओं ने कोपागंज जनपद मऊ के थानाध्यक्ष रामकृष्ण द्विवेदी सहित दो एसआई के ऊपर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है। इसके साथ ही बीजेपी कार्यकर्ता कोपागंज थाने के सामने धरना प्रदर्शन भी कर रहे हैं। कार्यकर्ताओं की मांग है कि रामकृष्ण द्विवेदी को पद से हटाया जाए। इसी मामले में एएसपी शैलेंद्र कुमार श्रीवास्तव ने बीजेपी कार्यकर्ताओं से मुलाकात की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App