ताज़ा खबर
 

बेटे की शहादत के बाद गमगीन पिता ने कहा- सरकार में दम होता तो हम नहीं खोते अपने बच्चे

शहीद जवान के परिवार ने केंद्र सरकार की आलोचना की है।

बख्तावर सिंह के पिता। (Source: ANI)

पाकिस्तान द्वारा संघर्षविराम उल्लंघन में भारतीय सेना के जवान लांस नायक बख्तावर सिंह शहीद बीते शुक्रवार 16 जून को शहीद हो गए थे। जम्मू-कश्मीर के नौशेरा सेक्टर में संघर्षविराम उल्लंघन के दौरान लांस नायक शहीद हो गए थे। वहीं शहीद जवान के परिवार ने केंद्र सरकार की आलोचना की है। परिवार का दावा है कि सरकार लगातार पाकिस्तान द्वारा किए जा रहे संघर्षविराम उल्लंघन पर सख्त कार्रवाई नहीं कर रही है। बख्तावर के पिता ने कहा- “हमें अपने बच्चे पर गर्व है जिसने अपनी जिंदगी देश लिए कुर्बान कर दी, लेकिन हम दुखी हैं। यह सब सरकार के आलसीपन की वजह से हो रहा है। पाकिस्तान लगातार संघर्षविराम का उल्लंघन करता है और हम सिर्फ छोटा सा जवाब देकर रह जाते हैं।” बख्तावर दो बच्चों का पिता था।

वहीं बख्तावर के पिता ने यह भी कहा कि सरकार उसकी(बख्तावर) की पत्नी को रोजगार कमाने में सहायता करने के लिए मदद मुहैया कराए जिससे की वह अपने परिवार को संभाल सके। बता दें बीते गुरुवार (15 जून) को पाकिस्तानी सैनिकों ने मोर्टार, रिकॉल गन्स और छोटे हथियारों के जरिए संघर्षविराम का उल्लंघन किया था। इसके बाद भारत और पाकिस्तान के बीच नौशेरा सेक्टर में एलओसी के पास भारी गोलीबारी हुई थी।

गौरतलब है नौशेरा सेक्टर में कुछ ही दिनों के भीतर पाकिस्तान ने दूसरी बार संघर्षविराम का उल्लंघन किया है। 11 जून को भी नियंत्रण रेखा पर पाकिस्‍तानी सेना की ओर से फायरिंग की गई थी। पाकिस्तानी रेंजरों ने जम्मू कश्मीर के सांबा जिले के अंतर्राष्ट्रीय सीमा (आईबी) पर भारतीय चौकियों पर अंधाधुंध गोलीबारी की थी, जबकि पाकिस्तानी सैनिकों ने राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा पर शाम के समय संघर्ष विराम का उल्लंघन किया था। वहीं अनंतनाग जिले के अचबल में एक पुलिस पार्टी 16 जून को बड़ा आतंकी हमला हुआ था। हमले में 6 जवान शहीद हो गए थे, जबकि कुछ के घायल होने की भी खबर थी। आतंकियों ने घात लगाकर पुलिस पार्टी पर हमला किया था। हमले में एसएचओ फिरोज डार भी शहीद हो गए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App