ताज़ा खबर
 

Passport बनवाने के नाम चल रही हैं कई फर्जी वेबसाइट्स, विदेश मंत्रालय ने जारी किया अलर्ट

फर्जी वेबसाइट को हैंडल करने वाले साइबर एक्सपर्ट चंद सेकेंड में आपका निजी डाटा और बैंक खाते को हैक कर नुकसान पहुंचा सकते हैं।

इंडियन पासपोर्ट फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

देश में ऑनलाइन पासपोर्ट बनवाने के नाम पर कई फर्जी वेबसाइट चल रही हैं। इससे लोगों को सावधान रहने की जरुरत है। फर्जी वेबसाइट को लेकर विदेश मंत्रालय के पासपोर्ट सेवा विभाग ने अलर्ट भी जारी किया है। लोगों को सलाह दी गई है कि वह पासपोर्ट बनवाने के लिए अधिकृत वेबसाइट का ही इस्तेमाल करें। विभाग की ओर से कुछ फर्जी वेबसाइट्स के नाम जारी करते हुए लोगों को चेतावनी जारी की गई है कि वह इन पर भूल कर भी अपना निजी डाटा और बैंक खाता शेयर न करें। बताया जा रहा है कि फर्जी वेबसाइट्स डोमेन नेम .org, .in, .com नाम से सक्रिय हैं।

National Hindi News, 09 July 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

हिंदुस्तान में छपी खबर के मुताबिक पासपोर्ट विभाग के नाम पर करीब आधा दर्जन फर्जी वेबसाइट चल रही हैं। यह फर्जी वेबसाइटें पासपोर्ट बनाने के नाम पर लोगों से तय शुल्क से अधिक फीस वसूल रही हैं। जबकि पासपोर्ट की अधिकृत वेबसाइट में किसी तरह का अतिरिक्त शुल्क नहीं लाया जाता है। कुछ फर्जी वेबसाइट्स के नाम जारी किए गए हैं जो इस प्रकार हैं। www.indiapassport.org, www.passport-seva.in, www.online-passportindia.com, www.passportindiaportal.in, www.passport-india.in, www.applypassport.org आदि है। गौरतलब है कि अधिकृत वेबसाइट www.passportindia.gov.in है।

बताया जा रहा है कि इन वेबसाइट पर होने वाले आवेदन पर पासपोर्ट सेवा केंद्रों में कागजातों के सत्यापन के लिए समय भी दिया जा रहा है। अभी तक तक आधा दर्जन फर्जी वेबसाइटों पते सामने आए हैं। बता दें कि सामान्य पासपोर्ट के लिए ऑनलाइन शुल्क 1500 रुपए लगती है। जबकि तत्काल पासपोर्ट फीस 3500 रुपए है। लेकिन फर्जी वेबसाइटों के जरिए इससे अधिक फीस वसूली जा रही है। इस मामले में कानपुर पासपोर्ट सेवा केंद्र के एपीओ मुकेश कुमार वर्मा ने कहा कि फर्जी वेबसाइट को लेकर विदेश मंत्रालय ने अलर्ट जारी किया है। साथ ही लोगों को बताया गया है कि पासपोर्ट के लिए अधिकृत वेबसाइट का ही प्रयोग करें। इसके अलावा विभाग ऐप से भी आवेदन कर सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 मध्य प्रदेश: भोपाल में लगे ज्योतिरादित्य सिंधिया को कांग्रेस अध्यक्ष बनाने के पोस्टर, विवाद शुरू
2 गुजरात: सरकारी प्रोजेक्ट की आलोचना पर पत्रकार और उसके परिवार पर हमला
3 Tik tok पर बनाया तबरेज अंसारी की हत्या का बदला लेने का वीडियो, मुंबई पुलिस ने कराया डिलीट, 3 अकाउंट सीज
ये पढ़ा क्या?
X