ताज़ा खबर
 

मनोज तिवारी बोले- ईवीएम पर भरोसा नहीं तो दिल्ली में जीतीं 67 सीटों पर दोबारा वोटिंग करा लें अरविंद केजरीवाल

11 मार्च को जब यूपी चुनावों के नतीजे आए थे तो बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा था कि ईवीएम मशीनों में गड़बड़ी हुई है, जिससे सारा वोट बीजेपी को चला गया।

दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों में से अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी ने 67 सीटें जीती थीं।

उत्तर पूर्वी दिल्ली से सांसद मनोज तिवारी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है। तिवारी ने कहा कि अगर अरविंद केजरीवाल को ईवीएम पर भरोसा नहीं है तो हमें उन 67 विधानसभा सीटों पर फिर से चुनाव करने दें जो उन्होंने जीती थीं। बता दें कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी को मिले भारी बहुमत के बाद विरोधियों ने ईवीएम (इलेट्रॉनिक वोटिंग मशीन) में गड़बड़ी का मुद्दा उठाया था। इसी मामले को और हवा देते हुए दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने चुनाव आयोग को एक पत्र लिखा है। इस पत्र में केजरीवाल ने दिल्ली में होने वाले आगामी नगरपालिका चुनाव (MCD) में ईवीएम मशीन की जगह बैलेट पेपर से चुनाव कराने की मांग की है।

बता दें कि अगले महीने अप्रैल में एमसीडी चुनाव होने हैं। आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह पहले ही कह चुके थे कि अगर उत्तर प्रदेश में नगर पालिका और नगर पंचायत के चुनाव बैलेट पेपर से करवाए जा सकते हैं तो दिल्ली में भी नगर निगम चुनाव बैलेट पेपर से करवाए जा सकते हैं। सोमवार को कांग्रेस नेता अजय माकन ने दिल्ली के मुख्यमंत्री को एमसीडी चुनाव बैलेट पेपर से कराए जाने की सलाह दी थी। अजय माकन ने ट्विट कर लिखा था, “ईवीएम मशीन पर कई लोगों ने सवाल खड़े किए हैं। मैं चाहता हूं कि निष्पक्ष और निर्विवाद चुनाव के लिए अरविंद केजरीवाल बैलेट पेपर के जरिए एमसीडी चुनाव कराएं।” बता दें कि चुनाव आयोग मंगलवार शाम चुनाव की तारीखों का एेलान कर देगा। माना जा रहा है कि अप्रैल के पहले हफ्ते में चुनाव हो सकते हैं। वर्तमान में एमसीडी पर भारतीय जनता पार्टी का कब्जा है।

मनोज तिवारी की प्रेस कॉन्फ्रेंस ः

11 मार्च को जब यूपी चुनावों के नतीजे आए थे तो बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा था कि ईवीएम मशीनों में गड़बड़ी हुई है, जिससे सारा वोट बीजेपी को चला गया। उन्होंने फिर से चुनाव कराए जाने की मांग तक कर दी थी। मायावती ने कहा था कि अगर पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी चीफ अमित शाह दूध के धुले हैं तो बैलेट पेपर से फिर से चुनाव करा लें, सही स्थिति सामने आ जाएगी। इसके साथ ही मायावती ने कहा कि उन्होंने  इस बारे में चुनाव आयोग को पत्र लिखा है कि लोगों को अब ईवीएम मशीन में भरोसा नहीं रह गया है। मायावती ने कहा था कि मुस्लिम बहुल इलाकों के ईवीएम में ज्यादा छेड़छाड़ की गई है। वहां लोगों ने किसी भी दल को वोट दिया हो लेकिन वोट सिर्फ भाजपा के खाते में गया। उन्होंने कहा कि या तो ईवीएम भाजपा के सिवा किसी और दल का वोट स्वीकार नहीं कर रहा था या फिर सारे वोट भाजपा को ही जा रहे थे।

मायावती ने ईवीएम के साथ छेड़छाड़ का लगाया आरोप; कहा- “दोबारा हों चुनाव”, देखें वीडियो ः

 

केजरीवाल ने विधानसभा चुनावों में किए वादों के पूरा होने का किया दावा; कहा- "दिल्ली को लंदन जैसा बनाएंगे", देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App