ताज़ा खबर
 

गोवा के सियासी संकट पर भड़के उत्पल पर्रिकर, बोले- मेरे पिता की मौत के बाद बीजेपी में विश्वास-प्रतिबद्धता जैसे शब्द खत्म

दिवंगत मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर ने गोवा में राजनीतिक संकट को लेकर बीजेपी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मेरे पिता के निधन के बाद भगवा पार्टी से विश्वास और प्रतिबद्धता जैसे शब्द खत्म हो गए हैं।

Author पणजी | July 11, 2019 7:31 PM
गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर। फोटो सोर्स: एएनआई

गोवा में कांग्रेस के 10 विधायकों के बीजेपी में शामिल होने को लेकर राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर ने भगवा पार्टी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मेरे पिता के निधन के बाद बीजेपी ने अलग दिशा पकड़ ली है। भगवा पार्टी में अब विश्वास और प्रतिबद्धता जैसे शब्द खत्म हो गए हैं।

जानें क्या बोले उत्पल पर्रिकर: दिवंगत मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर ने न्यूज एजेंसी पीटीआई से कहा, ‘‘मेरे पिता मनोहर पर्रिकर के वक्त विश्वास और प्रतिबद्धता जैसे शब्द बीजेपी के मूल थे, लेकिन 17 मार्च के बाद दोनों शब्द भगवा पार्टी से खत्म हो गए हैं। 17 मार्च के बाद बीजेपी ने अलग दिशा पकड़ ली है। यह तो वक्त ही बताएगा कि क्या यह सही है?’’ बता दें कि 17 मार्च को गोवा के मुख्यमंत्री व बीजेपी नेता मनोहर पर्रिकर का निधन हो गया था।

Bihar News Today, 11 July 2019: बिहार की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

बुधवार शाम बीजेपी में शामिल हुए कांग्रेस के 10 विधायक: गौरतलब है कि गोवा विधानसभा में कांग्रेस के 15 विधायक हैं, जिनमें से 10 विधायक बुधवार शाम बीजेपी में शामिल हो गए। उन्होंने बुधवार को विधानसभा अध्यक्ष को पार्टी से इस्तीफा देने की जानकारी दी।

National Hindi News, 11 July 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

अब बीजेपी की ताकत इतनी बढ़ी: बता दें कि कांग्रेस के 10 विधायकों के शामिल होने के बाद 40 सदस्य वाले गोवा विधानसभा के सदन में बीजेपी के पक्ष में 27 विधायक हो गए हैं। गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया कि नेता प्रतिपक्ष समेत 10 कांग्रेसी विधायक बीजेपी में विलय हो गए हैं। उन्होंने राज्य और अपने क्षेत्र के विकास के लिए यह कदम उठाया है। इसके लिए उन्होंने कोई शर्त नहीं रखी है। वे बिना किसी शर्त बीजेपी में शामिल हुए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App