ताज़ा खबर
 

एक दिन में अलग-अलग हुए सड़क हादसों में 19 की मौत और 44 लोग घायल

मणिपुर में सोमवार को अलग-अलग हुए तीन हादसों में 19 लोगों की मौत हो गई और 44 जख्मी हो गए।

मणिपुर में सोमवार को अलग-अलग हुए तीन हादसों में 19 लोगों की मौत हो गई और 44 जख्मी हो गए।

मणिपुर में सोमवार को अलग-अलग हुए तीन हादसों में 19 लोगों की मौत हो गई और 44 जख्मी हो गए। पुलिस ने बताया कि टामेंगलांग जिले के खोंगसांग में 300 मीटर गहरी खाई में एक वाहन गिर गया इसकी वजह से उसमें सवार आठ लोगों की मौत हो गई और छह घायल हो गए। उन्होंने बताया कि वाहन इंफाल जा रहा था लेकिन रास्ते में दोपहर के वक्त जिरीबाम-इंफाल राष्ट्रीय राजमार्ग पर यह हादसा हो गया। वहीं सेनापति जिले में एक अन्य हादसे में सोमवार तड़के दस लोगों की मौत हो गई।  पुलिस ने कहा कि दिमापुर की एक पर्यटक बस तड़के करीब 3.30 बजे माकन और चाखुमाई इलाके के बीच झरने में गिर गई और दस यात्रियों की मौत हो गई। हादसे में 38 के जख्मी होने की खबर है। तीसरा हादसा सोमवार दोपहर सेनापति जिले के ही लारीचिंग में हुआ जिसमें एक ट्रक चालक की मौत हो गई। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि हादसों के कारणों की जांच की जा रही है।

इससे पहले मणिपुर में आखिरी चरण का मतदान खत्‍म होने के कुछ ही देर बाद राजधानी इम्‍फाल में बम धमाके की खबर आई थी। एएनआई के अनुसार, शाम करीब सवा छह बजे कस्‍तूरी पुल के पास धमाका हुआ था, जिसमें 8 लोग घायल हो गए, इनमें से 2 की हालत गंभीर थी। इसके बाद मणिपुर में बीजेपी के नव निर्वाविच एन बीरेन सिंह ने 15 मार्च को मणिपुर के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है। उनका यह शपथ कार्यक्रम इंफाल के राज भवन में हुआ था। गौरतलब है कि इससे पहले 11 मार्च को आए चुनावी नतीजों के बाद कांग्रेस और बीजेपी दोनों पार्टियों द्वारा सरकार बनाने का दावा किया जा रहा था। मणिपुर में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी  बनकर उभरी थी। कांग्रेस के 28 उम्मीदवार जीते थे, वहीं बीजेपी के 21 उम्मीदवार जीते थे। बीजेपी ने दावा किया था कि उसके पास NPP(4), NPF (4) और LJP(1) के साथ-साथ तीन और विधायकों का भी समर्थन है। लिहाजा बाद में सरकार भी बीजेपी के पाले में आई।

लालबत्‍ती: सुविधा या वीआईपी कल्‍चर? जानिए विभिन्न राज्यों में क्या हैं नियम

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App