मंदसौर: मुस्लिम नेता बोले- बच्‍ची से रेप के आरोपी को किसी कब्रिस्‍तान में जगह नहीं

कई मुस्लिम संगठनों ने प्रशासन से मांग करते हुए कहा है कि मामले का फास्ट ट्रैक कोर्ट में स्पीड ट्रायल हो और दोषियों को मौत की सजा दी जाए।

mandsaur
मंदसौर में मुस्लिम संगठनों ने आरोपियों को सख्त सजा देने की मांग की है। (image source-Facebook)

मध्य प्रदेश के मंदसौर में एक बच्ची के साथ बलात्कार की घटना से जिले में लोगों का गुस्सा उबल पड़ा है। अब मुस्लिम समुदाय ने इस घटना की निंदा करते हुए ऐलान किया है कि वह आरोपी को किसी कब्रिस्तान में जगह नहीं देंगे। वक्फ अंजुमन इस्लाम कमेटी के सदर मोहम्मद यूनुस शेख का कहना है कि हमारे समुदाय में इस तरह के दरिंदों के लिए कोई जगह नहीं है, उसके अपराध के लिए उसे फांसी की सजा दी जानी चाहिए। यूनुस शेख के अनुसार, आरोपी का अपराध माफी लायक नहीं है और इसलिए हमनें यह फैसला किया है कि हम आरोपी की बॉडी को जिले के किसी भी कब्रिस्तान में दफनाने की इजाजत नहीं देंगे। इस संबंध में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने मंदसौर के एसपी मनोज सिंह से भी मुलाकात की और आरोपियों को कड़ी सजा देने की मांग की।

कई मुस्लिम संगठनों ने प्रशासन से मांग करते हुए कहा है कि मामले का फास्ट ट्रैक कोर्ट में स्पीड ट्रायल हो और दोषियों को मौत की सजा दी जाए। मुस्लिम नेताओं का कहना है कि आरोपी की मौत पर इस्लामिक प्रार्थना- नमाज-ए-जनाजा नहीं पढ़ाया जाएगा और इसका बायकॉट किया जाएगा। गौरतलब है कि मंदसौर के वकीलों ने भी फैसला किया है कि वह आरोपी का केस नहीं लड़ेंगे। मंदसौर बार एसोसिएशन ने आरोपी का केस लड़ने से इंकार कर दिया है, वहीं पीड़िता की तरफ से बार एसोसिएशन के 100 वकील मुकदमे की पैरवी करेंगे।

बता दें कि बीते बुधवार को मध्य प्रदेश के मंदसौर में तीसरी कक्षा में पढ़ने वाली 8 साल की बच्ची के साथ बलात्कार की घटना को अंजाम दिया गया था। इस मामले के आरोपी को पुलिस ने बच्ची के गायब होने के एक दिन बाद सीसीटीवी फुटेज के आधार पर हिरासत में लिया था। जिससे पूछताछ के बाद बच्ची गंभीर हालत में एक सुनसान जगह से बरामद हुई थी। फिलहाल बच्ची का अस्पताल में इलाज चल रहा है और अब उसकी हालत में थोड़ा सुधार हो रहा है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।