ताज़ा खबर
 

ट्रेन एक्सीडेंट में कट गए दोनों पैर, सरकारी अस्पताल के स्टाफ ने उन्हीं पैरों से बना दिया तकिया, बवाल हुआ तो दिए जांच के आदेश

अस्पताल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ विनय गुप्ता ने कहा कि डॉक्टरों की पहली प्राथमिकता मरीज को बचाना होता है। उन्होंने कहा कि इस दौरान किसने ये हरकत की इसकी जांच कराई जाएगी।

Author फरीदाबाद | Published on: August 25, 2019 2:31 PM
सरकारी अस्पताल स्टाफ ने मरीज के कटे पैरों का बना दिया तकिया (फाईल फोटो) PIC.. CREDIT-INDIAN EXPRESSS

हरियाणा के फरीदाबाद से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यहां बादशाह खान सरकारी अस्पताल में एक मरीज के कटे हुए पैरों को ही उसका तकिया बना दिया गया। वीडियो सामने आने के बाद जब बवाल मचा तो आनन-फानन में जांच के आदेश जारी कर दिए गए। प्राप्त जानकारी के मुताबिक ओल्ड फरीदाबाद के रहने वाले प्रदीप कुमार ने एक ट्रेन हादसे में अपने दोनों पैर गंवा दिए थे, इसके बाद उन्हें तुरंत बादशाह खान अस्पताल लाया गया।
Arun Jaitley Demise News Live Update: निगम बोध घाट पर अंतिम संस्कार में पहुंचे कई दिग्गज

डॉक्टर बोले- पहली प्राथमिकता जान बचानाः हॉस्पिटल स्टाफ ने प्राथमिक उपचार के लिए स्ट्रेचर पर ले जाने के दौरान प्रदीप के ही कटे हुए पैरों को उसके सिर के नीचे रख दिया। इस शर्मनाक हरकत को लेकर लोगों में काफी गुस्सा है। प्रदीप को प्राथमिक उपचार के बाद दिल्ली रैफर कर दिया गया। अस्पताल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ विनय गुप्ता ने कहा कि डॉक्टरों की पहली प्राथमिकता मरीज को बचाना होता है। उन्होंने कहा कि इस दौरान किसने ये हरकत की इसकी जांच कराई जाएगी।

National Hindi News, 25 August 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की तमाम अहम खबरों के लिए क्लिक करें

Weather Forecast States Flood Report Today Live Updates: मौसम का हाल जानने के लिए यहां क्लिक करें

बेशर्मी बार-बारः देश के सरकारी अस्पतालों में संवेदनहीनता और बेशर्मी का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी कई घटनाएं सामने आ चुकी हैं। पिछले दिनों बिहार के एक अस्पताल में चलने-फिरने में अक्षम एक शख्स को कूड़े के ढेर पर छोड़ दिया गया था। इस घटना में भी सरकार की खासी किरकिरी हुई थी। उत्तर प्रदेश में भी इस तरह के मामले कई बार सामने आ चुके हैं। कई बार कार्रवाई भी हुई लेकिन ऐसी घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रहीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 UP: वक्त पर नहीं पहुंची एंबुलेंस, महिला ने पुलिस वैन में दिया बच्चे को जन्म
2 आप-कांग्रेस के 3 दिग्गज BJP में हो सकते हैं शामिल, Jammu-Kashmir और Article 370 पर मोदी सरकार के फैसले से हुए प्रभावित
3 पत्थरबाजी में गई ट्रक ड्राइवर की जान, कश्मीर पुलिस ने एक को किया गिरफ्तार