ताज़ा खबर
 

20 दिन की जुड़वां बच्चियों को बाप ने डुबोकर मार डाला, बेटियों के जन्म पर हुआ था पत्नी से झगड़ा, बोला- नहीं उठा सकता खर्च

UP Crime: पुलिस के मुताबिक पति-पत्नी को आईपीसी की धारा 302 (मर्डर) और 201 (सबूत छिपाने और पुलिस को गुमराह करने) का मुकदमा दर्ज किया गया है।

Author मुजफ्फरनगर | Published on: September 23, 2019 3:24 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर फोटो सोर्स- जनसत्ता

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में एक चौंकाने वाली वारदात सामने आई है, यहां महज 20 दिन की दो जुड़वां बच्चियों को उनके ही बेरहम बाप ने डुबोकर मार डाला। प्राप्त जानकारी के मुताबिक पत्नी के साथ हुई बहस के बाद एक शख्स ने अपनी कमजोर आर्थिक स्थिति का हवाला देते हुए दोनों मासूमों को मौत के घाट उतार दिया। आरोपी का नाम वसीम बताया जा रहा है, वहीं उसकी पहचान नजमा के रूप में हुई। घटना के बाद पुलिस ने अफिया की भिक्की गांव से दोनों को गिरफ्तार कर लिया।

हत्यारे बाप ने दिया ये बयानः एसएचओ अजय कुमार ने मीडिया को दी जानकारी में दोनों की गिरफ्तारी की जानकारी दी। एक सात वर्षीय लड़के के पिता वसीम ने पुलिस से कहा, ‘हमारी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है। हम दोनों बेटियों का खर्च नहीं उठा सकते।’ एसएचओ के मुताबिक शनिवार (21 सितंबर) को हुई इस वारदात से पहले पति-पत्नी के बीच झगड़ा हुआ था, जिसके बाद दोनों मासूमों को घर के पास स्थित तालाब में डुबोकर मार डाला।

मर्डर के बाद लिखाई झूठी रिपोर्टः रविवार (22 सितंबर) को आरोपी पिता ने दोनों की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करा दी, लेकिन जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि दोनों की हत्या हो चुकी है। अपनी शिकायत में वसीम ने बताया था कि जब सुबह वो उठा तो उसकी बेटियां गायब थीं। पुलिस के मुताबिक पति-पत्नी को आईपीसी की धारा 302 (मर्डर) और 201 (सबूत छिपाने और पुलिस को गुमराह करने) का मुकदमा दर्ज किया गया है।

बेटियों के जन्म पर हुई थी लड़ाईः पुलिस के मुताबिक दोनों बच्चियों के शव बरामद किए जा चुके हैं। उनका पोस्टमॉर्टम भी हो चुका है। दंपती ने स्वीकार किया है कि उन्होंने ही बच्चियों को मारा है। दो बेटियों को जन्म देने की बात पर वसीम ने अपनी पत्नी से झगड़ा किया था। इस घटना के बाद से ही इलाके में सनसनी मची हुई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories