ताज़ा खबर
 

योगी आदित्यनाथ के दौरे के चलते रोक दिया ऑटो, बीमार मां को कंधे पर लादकर अस्पताल पहुंचा युवक

सीएम योगी आदित्यनाथ के दौरे के चलते ऑटो को अस्पताल परिसर से बाहर ही रोक दिया गया। इसके बाद युवक को अपनी बूढ़ी मां को कंधे पर लादकर अस्पताल ले जाना पड़ा।

सीएम योगी आदित्यनाथ आज सीतापुर के दौरे पर थे। (image source-Facebook/video grab image)

उत्तर प्रदेश के सीतापुर में एक घटना का वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में दिखाई दे रहा है कि एक युवक अपनी बूढ़ी मां को कंधे पर लादकर अस्पताल ले जा रहा है, जब वहां मौजूद पत्रकारों ने युवक से एंबुलेंस ना मिलने पर सवाल किया तो युवक ने बताया कि वह ऑटो से अपनी चोटिल मां को लेकर अस्पताल जा रहा था, लेकिन योगी आदित्यनाथ के सीतापुर दौरे के चलते सुरक्षा कारणों से उनके ऑटो को अस्पताल परिसर में दाखिल नहीं होने दिया गया। बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ आज सीतापुर के दौरे पर आए थे। इसी दौरान यह घटना घटी।

युवक ने बताया कि सिर पर चोट लगने के कारण परिवार वाले वृद्धा को लेकर जिला अस्पताल गए, लेकिन वहां बिना किसी उपचार के वृद्धा को अन्य अस्पताल में रेफर कर दिया गया। जिला अस्पताल द्वारा इस कदर लापरवाही बरती गई कि वृद्धा को रेफर करने के लिए एंबुलेंस भी उपलब्ध नहीं करायी गई। इस पर वृद्धा का बेटा महिला को ऑटो में लेकर अस्पताल पहुंचा, लेकिन संवेदनशीलता की हद तो तब हो गई, जब सीएम योगी आदित्यनाथ के दौरे के चलते ऑटो को अस्पताल परिसर से बाहर ही रोक दिया गया। इसके बाद युवक को अपनी बूढ़ी मां को कंधे पर लादकर अस्पताल ले जाना पड़ा। बता दें कि यह कोई पहली घटना नहीं है, जब मरीज के साथ इस कदर संवेदनहीनता बरती गई हो, इससे पहले भी कई बार इस तरह के मामले सामने आए हैं।

बता दें कि सीतापुर में आदमखोर कुत्तों ने आतंक मचा रखा है। अब तक ये कुत्ते 12 से ज्यादा बच्चों को नोंचकर मार चुके हैं, जबकि 25 बच्चों को ये आदमखोर कुत्ते घायल कर चुके हैं। कुत्तों के इस व्यवहार पर विशेषज्ञों का मानना है कि मादा कुत्तों और जंगली जानवरों के बीच संबंधों से कुत्तों की इस प्रजाति का विकास होने की संभावना है। फिलहाल कुत्तों के नमूने ले लिए गए हैं और उन पर रिसर्च की जा रही है। कुत्तों के हमले में घायल बच्चों के देखने के उद्देश्य से ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज सीतापुर का दौरा किया। हाईकोर्ट भी इस मामले पर सख्त हो गया है और सरकार से इस मसले पर जवाब मांगा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App