ताज़ा खबर
 

ममता के भतीजे अभिषेक बनर्जी ने अमित शाह पर किया मानहानि का केस, कोर्ट ने भेजा समन

तृणमूल युवा कांग्रेस के अध्यक्ष और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी की ओर से दायर मानहानि के एक मुकदमे के सिलसिले में शहर की एक अदालत ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को बुधवार को सम्मन जारी करते हुए 28 सितंबर को अदालत में पेश होने को कहा है।

Author कोलकाता | August 30, 2018 11:55 AM
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह। (image source-PTI photo by vijay verma)

तृणमूल युवा कांग्रेस के अध्यक्ष और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी की ओर से दायर मानहानि के एक मुकदमे के सिलसिले में शहर की एक अदालत ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को बुधवार को सम्मन जारी करते हुए 28 सितंबर को अदालत में पेश होने को कहा है। तृणमूल कांग्रेस के सांसद अभिषेक बनर्जी ने बैंकशैल की एक अदालत के समक्ष याचिका दायर कर आरोप लगाया है कि भाजपा अध्यक्ष ने 11 अगस्त को कोलकाता में एक जनसभा में उनके खिलाफ अपमानजनक बयान दिया था।
अभिषेक दो गवाहों स्वरूप विश्वास और सौम्य बख्शी के साथ अदालत में उपस्थित हुए और उनके लिखित बयान भी प्रस्तुत किये। मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट ने शाह को सम्मन जारी कर 28 सितंबर को अदालत में पेश होने को कहा है।

आदेश में कहा गया है, ‘‘भारतीय दंड संहिता, 1860 की धारा 500 के तहत लगे आरोपों का जवाब देने के लिए आपकी उपस्थिति आवश्यक है।’’ मुख्यमंत्री के भतीजे ने 13 अगस्त को शाह को कानूनी नोटिस भेजकर उनसे माफी मांगने को कहा था।  नोटिस में शाह से कहा गया था कि उन्होंने अपने भाषण के दौरान पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के ‘‘भतीजे’’ के खिलाफ हल्के तौर पर इशारा करते हुए कई गंभीर आरोप लगाए।

इसमें कहा गया, ‘‘चूंकि यह सबको पता है कि मेरे मुवक्किल ममता बनर्जी के भतीजे हैं और राजनीति में सक्रिय हैं, आपके भाषण से मेरे मुवक्किल के शुभंिचतकों को पता चल गया कि आप मेरे मुवक्किल की तरफ संकेत कर रहे थे।’’ अभिषेक बनर्जी के वकील संजय बसु ने दावा किया कि इन ‘‘फर्जी बयानों’’ से अपने शुभंिचतकों एवं देश के नागरिकों के बीच उनके मुवक्किल की प्रतिष्ठा को गंभीर नुकसान पहुंचा है।

बसु ने कहा कि अभिषेक इस आरोप से ‘‘इनकार करते हैं कि वह केंद्र से पश्चिम बंगाल राज्य को कथित रूप से मिले 3,59,000 करोड़ रुपये या किसी भी दूसरी धनराशि में कथित रूप से किसी हेरफेर में शामिल हैं।’’ नोटिस में शाह से अभिषेक के खिलाफ मानहानि करने वाले किसी भी तरह की टिप्पणी, बयान ना देने या उनका प्रसार ना करने को कहा गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App