ताज़ा खबर
 

जाली करंसी रैकेट चलाती थीं टीवी एक्‍ट्रेस, बहन और मां के साथ पुलिस ने किया गिरफ्तार

इस रैकेट में सबसे मुख्य रोल एक्ट्रेस की मां 56 वर्षीय रीमा देवी का था। पुलिस ने कहा, 'रीमा देवी ने अपने घर के ऊपरी हिस्से को गैर कानूनी गतिविधियों में इस्तेमाल करने की परमिशन दी थी।'

मलयालम टीवी एक्ट्रेस सुर्या शशि कुमार, उसकी मां और बहन को पुलिस ने किया गिरफ्तार (एक्सप्रेस फोटो)

केरल पुलिस ने जाली करंसी रैकेट चलाने के आरोप में मलयालम टीवी एक्ट्रेस को गिरफ्तार कर लिया है। एक्ट्रेस सूर्या शशिकुमार के साथ पुलिस ने उसकी मां रीमा देवी और बहन श्रुति को भी गिरफ्तार किया है। तीनों के ऊपर आरोप है कि वह केरल के इडुक्की जिले के कट्टपना स्थित अपने घर में नकली नोट छापती थीं। स्थानीय पुलिस ने जानकारी दी कि मंगलवार को उनके घर पर छानबीन की गई, तब यह बात सामने आई कि घर की दूसरी मंजिल पर नकली नोटों को छापने का काम किया जाता था। इससे पहले भी पुलिस नकली करंसी रैकेट चलाने के आरोप में कुछ लोगों की गिरफ्तारी कर चुकी है।

पुलिस का कहना है कि एक्ट्रेस अपनी मां और बहन के साथ मिलकर अपने घर पर 500 के नकली नोट छापती थी। पुलिस ने जानकारी दी कि पिछले आठ महीनों में करीब 57 लाख रुपए के नकली नोट छापे जा चुके हैं। पुलिस का कहना है कि इस रैकेट में और भी कई लोग शामिल हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक इस रैकेट में सबसे मुख्य रोल एक्ट्रेस की मां 56 वर्षीय रीमा देवी का था। पुलिस ने कहा, ‘रीमा देवी ने अपने घर के ऊपरी हिस्से को गैर कानूनी गतिविधियों में इस्तेमाल करने की परमिशन दी थी। इसके साथ ही नकली नोट छापने के काम को शुरू करने के लिए रीमा देवी ने 4.36 लाख रुपए भी लगाए थे।’ डील यह थी कि जितना भी लाभ होगा उसका आधा हिस्सा रीमा देवी को दिया जाएगा। इडुक्की पुलिस चीफ केबी वेणुगोपाल का कहना है, ‘इस मामले में अभी आधे दर्जन से भी ज्यादा आरोपियों को गिरफ्तार किया जाना है।’ पुलिस ने रीमा देवी के घर से छपे हुए कई नकली नोटों को भी बरामद किया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक दो दिन पहले ही पुलिस ने इडुक्की के अन्नाकरायी स्थित एक घर से 2.25 लाख रुपए की कीमत वाले नकली नोटों को बरामद किया था। इस मामले में पूर्व सैनिक समेत तीन लोगों को गिरफ्तार भी किया गया था। पूछताछ के दौरान इन तीनों आरोपियों ने ही मलयालम एक्ट्रेस, उसकी मां और बहन का नाम लिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App