ताज़ा खबर
 

योजनाओं का लाभ लोगों तक उपलब्ध कराएं: योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन के अधिकारियों से आयुक्त सभागार में कहा कि समयसीमा के भीतर निर्माणार्धीन कार्य योजनाओं को हर हाल में पूरा करा लिया जाए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दौरे पर सितंबर में आएंगे और कई योजनाओं का उद्घाटन करेंगे। इन योजनाओं को अगस्त में पूरा करने का निर्देश दिया।

Author वाराणसी | Updated: August 23, 2019 1:21 AM
योगी आदित्यनाथ फोटो सोर्स- जनसत्ता

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को यहां निर्देश दिया कि प्रत्येक थाना क्षेत्र के थानेदार की कार्यप्रणाली पर नजर रखी जाए। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि जन योजना का लाभ आम लोगों तक उपलब्ध कराएं। मुख्यमंत्री मंत्रिमंडल कैबिनेट विस्तार के बाद प्रधानमंत्री संसदीय क्षेत्र वाराणसी में गुरुवार शाम को दो दिवसीय दौरे पर आए। उन्होंने आयुक्तसभागार में वाराणसी मंडल के जिलों के विकास कार्य की समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों के साथ निर्माणार्धीन योजनाओं का मुआयना किया। उन्होंने गोइठहा और दीनापुर में 280 एमएलडी के बने नए एसटीपी का निरीक्षण किया। शहर में भूमिगत किए जा रहे बिजली के तार व गैस पाइप की योजनाओं का हाल जाना। उन्होंने रिंग रोड, ट्रांसपोर्ट नगर, नई काशी और एअरपोर्ट विस्तारीकरण प्रोजेक्ट का जायजा लिया।

मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन के अधिकारियों से आयुक्त सभागार में कहा कि समयसीमा के भीतर निर्माणार्धीन कार्य योजनाओं को हर हाल में पूरा करा लिया जाए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दौरे पर सितंबर में आएंगे और कई योजनाओं का उद्घाटन करेंगे। इन योजनाओं को अगस्त में पूरा करने का निर्देश दिया। प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट के तहत लहरतारा ओवरब्रिज, फुलवरिया फोर लेन, बीएचयू में सुपर स्पेशियलिटी सेंटर, दीनदयाल अस्पताल व महिला अस्पताल परिसर में एम.सी.एच. विंग हैं। इन परियोजनाओं को पारदर्शिता के साथ पूरा करने का निर्देश दिया गया है। पिछले साल सितंबर में प्रधानमंत्री ने अपने संसदीय क्षेत्र काशी में अपना जन्मदिन मनाया था।

उन्होंने जिलाधिकारी को निर्देश दिया कि केंद्र और राज्य सरकार की जन योजना का लाभ आम लोगों तक उपलब्ध कराएं। बैठक में प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री आवास योजना के कार्य की धीमी गति से होने पर असंतोष जताया गया। उन्होंने कहा कि सरकारी आवासीय योजनाआें के कार्य में पारदर्शिता से कार्य किया जाए। मुख्यमंत्री ने कानून व व्यवस्था की समीक्षा की।

उन्होंने कहा कि अपराधी घटनाओं पर अंकुश लगाया जाए। ऐसा न होने पर सीधी कार्रवाई की जाएगी। अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि छोटी घटनाओं को नजरअंदाज न किए जाए। उनकी प्रभावी ढंग से रोकथाम की जाए। उन्होंने वाराणसी समेत पूर्वांचल में अपराधिक वारदातों पर चिंता जताई। उन्होंने पुलिस अफसरों को निर्देश दिया कि प्रत्येक थाना क्षेत्र के थानेदार की कार्यप्रणाली पर नजर रखें। भ्रष्टचार में शामिल पर कार्रवाई की जाए।
मुख्यमंत्री ने अधिकारियों की बैठक में कहा कि शहर में समस्याओं को दूर किए जाए। सफाई व्यवस्था ठीक नहीं है। शहर में कूड़ा न दिखाई पड़े, सीवर की सफाई प्रभावी ढंग से की जाए।

नगर की सड़कों की हालत ठीक न होने पर पीडब्लूडी, नगर निगम, आरईएस के अफसरों को फटकार लगाई। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि बारिश समाप्त होने पर पूरी सड़क को दुरुस्त किया जाए। उन्होंने जल निगम, जलकल, नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिया कि आम जनों के लिए बने सभी पेयजल टंकियों को ठीक किया जाए और आमजन को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराया जाए। शिकायत आने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 बलात्कार के दोषी को दस साल की सजा और एक लाख का जुर्माना
2 चिदंबरम के बाद शरद पवार पर भी लटकी तलवार, 1000 करोड़ रुपये के घोटाले में FIR दर्ज करने के आदेश