ताज़ा खबर
 

मुंबई में ग्रिड फेल से बिजली संकटः दुकान, ट्रेन-अस्पतालों पर पड़ा असर; ढाई घंटे तक छकाया, CM ने दिए जांच के आदेश

महाराष्ट्र के ऊर्जा मंत्री नितिन राउत ने एक वीडियो बयान जारी कर बताया कि महाराष्ट्र राज्य बिजली ट्रांसमिशन कंपनी के 400 किलोवाट के कालवा-पाडगा केन्द्र में मरम्मत के काम के दौरान दो नंबर सर्किट में तकनीकी गड़बड़ी आ गई।

Major power cuts across Mumbai: ग्रिड फेल होने के बाद कई इलाकों में बत्ती गुल हो गई। (file)

महाराष्ट्र में मुंबई को सोमवार को बड़े बिजली संकट का सामना करना पड़ा। ग्रिड फेल होने के बाद कई इलाकों में बत्ती गुल हो गई। बिजली कनेक्शन जाने के कारण आलम यह था कि लोकल ट्रेन्स से लेकर हाई कोर्ट तक सभ प्रभावित हुआ। बिजली जाने का सटीक कारण अभी पता नहीं चल पाया है, लेकिन बृह्नमुंबई बिजली आपूर्ति एवं परिवहन (बेस्ट) ने ट्वीट किया कि टाटा पावर से हो रही बिजली आपूर्ति में गड़बड़ी होने के चलते ऐसा हुआ है।

नगर निकाय द्वारा संचालित आपदा नियंत्रण कक्ष ने कहा कि शहर के उपनगरीय इलाके कालवा में टाटा पावर द्वारा बिजली आपूर्ति में गड़बड़ी के चलते ऐसा हुआ है और बिजली आने में एक घंटे तक का वक्त लगेगा। वहीं महाराष्ट्र के ऊर्जा मंत्री नितिन राउत ने एक वीडियो बयान जारी कर बताया कि महाराष्ट्र राज्य बिजली ट्रांसमिशन कंपनी के 400 किलोवाट के कालवा-पाडगा केन्द्र में मरम्मत के काम के दौरान दो नंबर सर्किट में तकनीकी गड़बड़ी आ गई। उन्होंने कहा, ”मुंबई और ठाणे का एक बड़ा हिस्सा इससे प्रभावित हुआ है। 30-40 मिनट में बिजली आ जाएगी।”

उधर, पश्चिम रेलवे ने कहा, ”टाटा पावर कंपनी के ग्रिड में गड़बड़ी के चलते सुबह करीब 10 बजे बिजली आपूर्ति बाधित होने से चर्चगेट और बोरिवली के बीच ट्रेन सेवाएं रुक गईं । बिजली आपूर्ति बहाल होते ही सेवाएं फिर शुरू हो जाएंगी।” मध्य रेलवे के अधिकारियों ने ग्रिड में गड़बड़ी को ट्रेन सेवाएं बाधित होने की वजह बताया है। हालांकि टाटा पावर की ओर से इस मामले पर कोई बयान नहीं आया है। वहीं छत्रपति शिवाजी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के प्रवक्ता ने बताया कि संचालन सामान्य रूप से चल रहा है।

इस बीच, मुंबई के निगम आयुक्त आई एस चहल ने अस्पताल के अधिकारियों को जनरेटर का इंतजाम रखने के लिये कहा है कि ताकि अस्पतालों और विशेषकर आईसीयू में बिजली न जाए।

बिजली गुल होने के बीच शेयर बाजारों बीएसई और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में कामकाज सामान्य तरीके से चल रहा है। बीएसई के प्रवक्ता ने कहा, ‘‘दक्षिण मुंबई में बिजली गायब नहीं हुई है। एक्सचेंज में कामकाज सामान्य है। आज सुबह मझगांव शिपबिल्डर्स की सूचीबद्धता का कार्यक्रम भी सफलतापूर्वक पूरा हुआ।’’

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ने भी कहा कि उसका कामकाज सामान्य तरीके से चल रहा है। देश की आर्थिक राजधानी के एक बड़े हिस्से में सोमवार सुबह तकनीकी गड़बड़ी की वजह से बिजली बंद हो गई। बृहन्मुंबई विद्युत आपूर्ति एवं परिवहन (बेस्ट) ने ट्वीट कर बताया कि टाटा की बिजली आपूर्ति फेल होने से बिजली आपूर्ति बाधित हुई है। सार्वजनिक क्षेत्र की बेस्ट के अलावा अडाणी इलेक्ट्रिसिटी और टाटा पावर शहर को बिजली की आपूर्ति करती हैं।

सूत्रों के हवाले से कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया कि मुंबई में बिजली जाने से हर घंटे करीब 250 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ। हालांकि, इस बाबत आधिकारिक पुष्टि नहीं हो सकी है।

Next Stories
1 यूपी में कंटेनमेंट जोन में त्योहारों के दौरान नहीं होंगे कोई भी आयोजन, योगी सरकार ने त्योहारी सीजन को लेकर जारी किए दिशानिर्देश
2 बिहार में महिला को 5 साल के बच्चे के साथ अगवा कर किया गैंगरेप, दोनों को नहर में फेंका; बच्चे की मौत
3 दिल्ली में दशहरा में नहीं लगेंगे मेले और फूड स्टॉल्स, केजरीवाल सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन्स, जानें
ये पढ़ा क्या?
X