ताज़ा खबर
 

महाराष्ट्र: नेवल बेस के पास देखे गए संदिग्ध हथियारबंद, नेवी हाईअलर्ट पर

इन सदिग्धों को स्कूली बच्चों ने सुबह स्कूल जाते वक्त देखा था। बच्चों को दावा है कि वे चार-पांच लोग थे और संदिग्ध लग रहे थे।
नेवी के हेलीकॉप्टर से संदिग्धों को ढूंढ़ा जा रहा है। (Photo- ANI)

मुंबई के निकट उरन में नौसेना क्षेत्र के पास संदिग्ध अवस्था में सेना की वर्दी पहनकर घूमते हुए चार व्यक्ति देखे जाने के बाद पश्चिमी नौसेना कमान ने मुंबई तट पर हाई अलर्ट जारी किया है। पुलिस ने कहा कि चारों की तलाश के लिए अभियान जारी है। भारतीय नौसेना के प्रमुख पीआरओ कैप्टन डी. के. शर्मा के मुताबिक मामला प्रकाश में आने के बाद महाराष्ट्र पुलिस के साथ तलाशी अभियान चल रहा है। पश्चिम नौसेना कमान ने उरन में समूह की संदिग्ध गतिविधि देखे जाने के बाद मुंबई, नवी मुंबई, ठाणे और रायगढ़ में ‘हाई अलर्ट’ जारी किया है।

नौसेना तलाशी अभियान में पुलिस और तटरक्षक बल का भी सहयोग ले रही है। अधिकारियों को मिली प्रारंभिक सूचना के मुताबिक चार स्कूली छात्रों ने उरन और करन्ला इलाके में भारतीय सेना जैसी वर्दी पहने हुए लोगों के एक समूह को देखा। डीजीपी कार्यालय ने तट के पास सभी थानों को तुरंत अलर्ट जारी कर दिया। तट के पास गेटवे ऑफ इंडिया, राजभवन, बंबई हाई, भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र और अन्य बड़े प्रतिष्ठानों सहित संवेदनशील स्थानों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

नेवी से जुड़े सूत्रों ने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया, ‘करीब 11 बजे छात्रों ने बताया कि उन्होंने पठान सूट जैसी ड्रेस में चार लोग देखे हैं, जो एक दूसरे अलग ही भाषा में बात कर रहे थे।’ साथ ही सूत्रों ने बताया कि छात्रों ने संदिग्धों को नेवल बेस के दूसरी साइड देखा था। छात्रों ने सुना था कि वे लोग बार-बार ‘ओएनजीसी’ और ‘स्कूल’ का नाम ले रहे थे। उरण में ओएनजीसी ऑयल रिंग है। बच्चों का कहना है कि उन लोगों के पास कुछ बंदूक जैसे दिखने वाला था। बच्चों का कहना है कि उन लोगों ने अपने चेहरे ढके हुए थे।

महाराष्ट्र के गृहराज्य मंत्री दीपक केसरकर एबीपी न्यूज चैनल से बात करते हुए कहा, ‘लोग घबराएं नहीं, कोई भी जानकारी मिलने पर पुलिस के बताएं। लोग शांति बनाए रखें, अफवाहों पर ध्यान ना दें। सभी एजेंसियां सजग हैं।’

बता दें, साल 2008 में मुंबई में लश्कर के हथियारबंद आतंकियों ने हमला करके 150 लोगों को मार गिराया था। इस दौरान आतंकियों को साथ तीन दिन तक मुठभेड़ चली थी। भारतीय सेना ने नौ आतंकियों को मार गिराया था और एक आतंकी अजमल कसाब को जिंदा पकड़ लिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.