scorecardresearch

परसों तक जो मेरी गाड़ी में थे उनके हाथ कांप रहे थे, वो भी चले गए, बोले आदित्‍य ठाकरे

केंद्रीय मंत्री राव साहब दानवे ने दावा किया है कि अगले 2 से 3 दिनों में महाराष्ट्र में बीजेपी की सरकार बन जाएगी।

परसों तक जो मेरी गाड़ी में थे उनके हाथ कांप रहे थे, वो भी चले गए, बोले आदित्‍य ठाकरे
आदित्य ठाकरे (फोटो सोर्स: PTI)

महाराष्ट्र में सियासी उठापटक जारी है और शिंदे गुट ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है। वहीं शिवसेना के राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हुई, जिसको आदित्य ठाकरे ने भी संबोधित किया और आदित्य ठाकरे के निशाने पर बागी विधायक रहें। बैठक के दौरान आदित्य ठाकरे ने विधायकों को चेतावनी देते हुए कहा कि हम शरीफ क्या हुए, दुनिया ही बदमाश हो गई। आदित्य ठाकरे ने शिवसेना के नेताओं और कार्यकर्ताओं से एकजुट रहने की अपील भी की।

बैठक को संबोधित करते हुए आदित्य ठाकरे ने कहा कि परसों तक जो मेरी गाड़ी में बैठे थे और उनके हाथ कांप रहे थे ,आज वह भी उधर चले गए। आदित्य ठाकरे ने बागी विधायकों पर कहा कि गुवाहाटी में 15-16 विधायक काफी तकलीफ में है और उन्हें किडनैप कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि शिवसेना की असली ताकत शिवसैनिक हैं।

आदित्य ठाकरे ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा, “अब बागी विधायकों को लगता है कि उनका अपहरण कर लिया गया है। वे वहां पर कैदी हैं। इन लोगों में हिम्मत होनी चाहिए और आकर आमने-सामने बात करनी चाहिए। एकनाथ शिंदे में ठाणे में बगावत करने की हिम्मत नहीं थी। वह बगावत करने के लिए सूरत गए थे। प्रत्येक विधायक जिसने विद्रोह किया है, उसके पास दो विकल्प हैं। भाजपा में शामिल हों या प्रहार में शामिल हों। वे शिवसेना या धनुष और तीर के प्रतीक के योग्य नहीं हैं।”

वहीं केंद्रीय मंत्री रावसाहेब दानवे ने महाराष्ट्र में सरकार बनाने का दावा किया है। उन्होंने कहा, “टोपे साहब (महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे की मौजूदगी में) मैं ढाई साल से केंद्रीय मंत्री हूं, आप राज्य के मंत्री हैं, इसलिए जो करना है, जल्दी करो। मैं अभी भी अगले 2-3 दिनों के लिए विपक्ष में हूं, इसलिए मैं आपके सामने (विपक्षी नेता के रूप में) अपने विचार प्रस्तुत करूंगा।”

वहीं महाराष्ट्र का सियासी मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। डिप्टी स्पीकर के फैसले के खिलाफ बागी विधायकों के गुट ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है और डिप्टी स्पीकर के फैसले को अयोग्य ठहराया है। बागी विधायकों की ओर से मशहूर वकील हरीश साल्वे तो वहीं शिवसेना की ओर से अभिषेक मनु सिंघवी पक्ष रखेंगे।

पढें महाराष्ट्र (Maharashtra News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.