ताज़ा खबर
 

महिला ने मांगा तलाक, बोली- रोटी बनवा कर नापता है पति, एक्‍सेल शीट में मांगता है काम का हिसाब

पति के 'प्रोटोकॉल' का पालन करते-करते परेशान हुई पत्नी ने अब तलाक की कोर्ट से गुहार लगाई है। पत्नी ने अपनी याचिका में पति की अजीब शर्तों से परेशान होने की बात कहते हुए तलाक की मांग की है। कहा है कि लंबी या छोटी रोटी बनने पर पति पीटते हैं, डेली एक्सेल शीट से काम का हिसाब मांगते हैं।

Author नई दिल्ली | March 27, 2018 4:35 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर।

रोटी 20 सेंटीमीटर गोल होनी चाहिए। ब्रेकफास्ट का मेन्यू एक दिन पहले भेजकर मंजूरी कराओ। हर दिन कितना आटा, चावल, दाल, तेल खर्च हुआ उसका हिसाब किताब दो। फिर एक्सेल सीट पर पूरी रिपोर्ट बनाकर ईमेल से भेजो। हां जरूरी बातचीत भी ईमेल से ही करनी है। ये शर्ते एक पति ने अपनी पत्नी पर कई वर्ष से थोप रखीं हैं। पति के ‘प्रोटोकॉल’ का पालन करते-करते परेशान हुई पत्नी ने अब तलाक की कोर्ट से गुहार लगाई है। पत्नी ने अपनी याचिका में पति की अजीब शर्तों से परेशान होने की बात कहते हुए तलाक की मांग की है।

पुणे निवासी युवती की शादी 2008 में हुई थी। पति पेशे से इंजीनियर है। शुरुआत में सब कुछ ठीक चलता रहा। मगर, बाद में पति ने अजीबोगरीब हरकतें शुरू कर दीं। जुल्म-ज्यादिती बढ़ती गई। प्रथम श्रेणी के न्यायिक मजिस्ट्रेट के यहां वकील सुप्रिया के जरिए दायर याचिका में पत्नी ने चौंकाने वाली बातें कहीं हैं। महिला के मुताबिक उनके आईटी प्रोफेशनल पति की ज्यादिती से तंग आकर वह आत्महत्या करना चाहती है मगर बेटी को देखकर हिम्मत नहीं जुटा पाती। पति छोटी-छोटी बातों पर मारपीट पर उतारू हो जाता है।महिला के मुताबिक 2010 में पति का उत्पीड़न तो कुछ ज्यादा ही बढ़ गया, जब पति ने रोजाना के काम के हिसाब एक्सेल शीट पर मांगना शुरू कर दिया। वही उसे नोटबुक में भी लिखने को कहा।
पुणे मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक पति ने पत्नी के लिए एक्सेल सीट का बकायदा एक प्रारूप तैयार कर दिया। जिसमें तीन कॉलम हैं- पूर्ण, अपूर्ण और कार्य प्रगति में। पति के निर्देशों के मुताबिक अगर कोई टॉस्क पूरा नहीं हुआ है तो उसका कारण भी लिखना पड़ता है। महिला के मुताबिक जब वह रिपोर्ट नहीं देती थी तो उसे उत्पीड़न का शिकार होना पड़ता था। हर दिन विशेष मेन्यू के तहत ब्रेकफॉस्ट बनाना पड़ता था। यही नहीं अगले दिन ब्रेकफॉस्ट में क्या बनेगा, इसकी मंजूरी एक दिन पहले लेनी पड़ती थी। महिला ने कहा कि पति का प्रोटोकॉल फॉलो करते-करते, उसकी जिंदगी दुखद हो गई है। पति 20 सेंटीमीटर गोलाई की रोटी बनाने को कहता है। यही नहीं अनाज खरीदने, इसकी खपत आदि का भी हिसाब की रिपोर्ट देनी पड़ती है। महिला ने आरोप लगाया कि एक बार तो इंजीनियर पति इतना क्रोधित हुआ कि किचेन में घुसकर चाकू लेकर बेटी को दौड़ा लिया और मार डालने की बात कही।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App