ताज़ा खबर
 

डॉक्टर के बाथरुम से लेकर बेडरुम तक लगे हुए खुफिया कैमरे, ऐसे आए पकड़ में

महाराष्ट्र के पुणे में एक नामी अस्पताल के डॉक्टर के कमरे और बाथरुम में खुफिया कैमरा मिला, इसका खुलासा उस वक्त हुआ जब...

महिला के कैमरें में छिपाए गए थे कैमरे, तस्वीर- प्रतीकात्मक: Source- Indian Express

महाराष्ट्र में महिला सुरक्षा को लेकर भले ही कितनी बातें और दावें हो लेकिन जमीन हकीकत अलहदा मालूम पड़ते है। पुणे में ऐसा ही एक मामला सामने आया है। यहां एक डॉक्टर के कमरे से लेकर बाथरुम तक खुफिया कैमरे मिलने से हड़कंप मच गया। हैरान करने वाली बात ये है कि घटना पुणे के एक नामी अस्पताल की है। जिसके बाद नए सिरे महिलाओं की निजता और सम्मान को लेकर बाते शुरू हो गई हैं।

दरअसल 30 वर्षीय डॉक्टर को अस्पताल की तरफ से एक क्वार्टर एलॉट किया गया था। यहां वो एक अन्य महिला के साथ रहती हैं। मंगलवार की शाम डॉक्टर अपनी ड्यूटी पूरी करने के क्वार्टर पहुंची। घर पर पहुंचने के बाद वह नहाने के लिए बाथरुम में गईं। बाथरुम में उन्होंने बल्ब का स्विच ऑन किया तो लाइट ऑन नहीं हुआ, इसके बाद डॉक्टर ने बेडरुम की लाइट ऑन करनी चाही तो वह भी ऑन नहीं हुई। लाइट नहीं होने के कारण उन्होंने फिर इलेक्ट्रिशयन को बुलाया।

इलेक्ट्रिशियन ने जब चेक करने के लिए होल्डर निकाला तो उसके होश उड़ गए. बल्ब के होल्ड में एक स्पाई कैमरा लगा हुआ था। महिला डॉक्टर ने फौरन लिविंग रुम में लगे बल्ब और होल्डर चेक कराए तो वहां भी इसी तरह की स्थिति पाई गई। स्पाई कैमरों के साथ साथ होल्डर में मेमरी कार्ड और बैकअप भी मिला. पुलिस के अनुसार मामले की जांच जारी है, जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

एक तरफ सरकारें महिला सुरक्षा को लेकर तमाम दावें कर रही हैं तो वहीं दूसरी तरफ अपराधी प्रवृति के लोग बिना किसी खौफ के महिलाओं के बाथरुमों और बेडरुमों तक नजर लगा रहे हैं। ऐसे में सिस्टम के साथ साथ समाज भी सवालों के घेरे में आ गया है। आए दिन होने वाले महिला विरोधी अपराध भी इसकी तस्दीक करते हैं।

महाराष्ट्र ही नहीं बल्कि ऐसे मामले देश के अन्य राज्यों में भी पाए जाते हैं, पिछले दिनों राजस्थान के जयपुर में एक मॉल की दुकान में हिडन कैमरा मिला था। यह कैमरा चेंजिंग रुम में लगा था। युवती की शिकायत के बाद दुकानदार को गिरफ्तार किया गया था। इसी तरफ उत्तर प्रदेश के महाराजगंज में एक स्कूल के लेडीज टॉयलेट में छिपाया हुआ कैमरा मिला था। मामले के खुलासे के बाद छात्राओं के परिजनों ने जमकर हंगामा किया था।

Next Stories
1 महाराष्ट्र: ज्यादातर छात्रों के पास मोबाइल-कंप्यूटर नहीं, लेकिन पढ़ाई न छूटे, इसलिए घर पहुंचकर पढ़ा रहे टीचर
2 जांच में पता चला, कोरोना वैक्सीन की जगह दे दिया गया नमक वाला पानी, अब होगा एंटीबॉडी टेस्ट
ये पढ़ा क्या?
X