ताज़ा खबर
 

गोवा से 3 घंटे की देरी से रवाना हुई थी तेजस एक्‍सप्रेस, तय समय से 1 मिनट पहले ही पहुंच गई मुंबई

तेजस एक्‍सप्रेस एक बार फिर चर्चा में हैं और इस बार वजह अच्छी है।

ट्रेन में एलसीडी स्क्रीन्स दी गई हैं। इन पर यात्री फिल्में भी देख सकेंगे। (Express photo )

भारतीय रेलवे द्वारा हाल ही में लॉन्च की गई तेजस एक्‍सप्रेस एक बार फिर चर्चा में हैं और चर्चा में बने रहने की वजह भी अच्छी है। गोवा से मुंबई तक का सफर तय करने वाली तेजस एक्‍सप्रेस अपने शेड्यूल टाइम से 3 घंटे की देरी से चली थी लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि ट्रेन मुंबई अपने तय समय से 1 मिनट पहले पहुंच गई। मुंबई के छत्रपति शिवाजी टिर्मिन्स पर यात्री भी यह देख कर चौंक गए कि आखिर कैसे ट्रेन देरी से चलने के बाद भी लेट नहीं हुई और तय समय से पहले ही पहुंच गई। बता दें तेजस एक्सप्रेस एक लग्जरी ट्रेन है जो 200 kmph की रफ्तार से दौड़ सकती है।

तेजस एक्सप्रेस के इस कारनामे को लेकर कोकण रेलवे स्टेशन के प्रवक्ता एल.के. वर्मा ने बताया कि टाइमटेबल में बदलाव के कारण ही तेजस अपने समय से लगभग 3 घंटे पीछे हो गई। उन्होंने कहा- “‘ट्रेन को कुडल स्टेशन पर 17 मिनट, रत्नागिरी पर 1 घंटा पनवेल पर फिर 14 मिनट की देरी हुई। ऐसे में देरी को ध्यान में रखते हुए ट्रेन की रफ्तार जरूरत के मुताबिक बढ़ाई गई।” देरी को देखते हुए तेजस एक्सप्रेस को कर्मली से कुडल स्टेशन के बीच 153 kmph, कुडल से रत्नागिरी स्टेशन के बीच 137 kmph और फिर रत्नागिरी से पनवेल के बीच 125 kmph की रफ्तार से दौड़ाया गया। इस तरह तेजस ने अपना खोया हुआ समय वापिस हासिल कर लिया और मुंबई अपने तय शेड्यूल पर पहुंच गई।

ट्रेन सुबह 10:30 बजे गोवा से चली और शाम 7:44 पर मुंबई पहुंच गई। यह प्रीमियम एक्सप्रेस मुंबई से गोवा के लिए हफ्ते में 3 बार चलाई जाती है। बता दें 22 मई को तेजस एक्सप्रेस का उद्घाटन हुआ था। ट्रेन में किसी हवाई विमान जैसी सुविधाएं दी गई है। इसमें एलसीडी स्क्रीन्स हैं जिस पर यात्री फिल्में देख सकते हैं। स्वचालित दरवाजे, बायो-टॉयलेट, सेंसर वाले पानी के टैप, बिजनेस क्लास सीटें और अटेन्डेंट्स को बुलाने के लिए बटन जैसी सुविधाएं दी गई हैं। तेजस एक्सप्रेस में 20 कोच दिए गए हैं। वहीं आग से बचाने के लिए भी तेजस में खास फीचर दिए गए हैं। आग लगने पर ट्रेन में ज्यादा धुंआ उठने पर ब्रेक अपने आप लग जाएंगे और ट्रेन रुक जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App