ताज़ा खबर
 

Surgical Strike: कांग्रेस नेता ने कहा- सर्जिकल स्‍ट्राइक ही नहीं, पूरी मोदी सरकार है फर्जी

"वे नीरव मोदी और मेहुल चोकसी पर बात नहीं करते हैं, उनके शासन काल में सैनिक मारे जा रहे हैं, किसान मारे जा रहे हैं, छात्रों को स्कॉलरशिप नहीं मिल पा रही है, और वे इस मुद्दे पर बात नहीं कर रहे हैं।"

Author Published on: June 28, 2018 5:54 PM
27-28 सितंबर की रात को भारतीय सेना ने पीओके में आतंकी लॉन्‍चपैड पर सर्जिकल स्‍ट्राइक की थी। (फाइल फोटो)

नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो जारी किये जाने के बाद इस पर लगातार सियासत जारी है। कांग्रेस ने पीएम मोदी और बीजेपी पर हमला करते हुए कहा है कि सेना का शौर्य हर देशवासी के लिए गर्व का विषय है पर इस मुद्दे पर राजनीतिक रोटियां नहीं सेकी जानी चाहिए। मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष संजय निरुपम ने कहा कि ना सिर्फ सर्जिकल स्ट्राइक बल्कि पूरी मोदी सरकार ही फर्जी है। संजय निरुपम ने कहा, “सिर्फ सर्जिकल स्ट्राइक ही नहीं पूरी मोदी सरकार फर्जी है, और मोदी सबसे बड़े फर्जी आदमी हैं। 2018 में पीएम मोदी मुंबई आते हैं और 1975 के आपातकाल की बात करते हैं लेकिन वे 2018 की बात नहीं करते हैं ।” संजय निरुपम ने नीरव मोदी के मुद्दे पर भी सरकार को घेरा।  संजय निरुपम ने कहा, “वे नीरव मोदी और मेहुल चोकसी पर बात नहीं करते हैं, उनके शासन काल में सैनिक मारे जा रहे हैं, किसान मारे जा रहे हैं, छात्रों को स्कॉलरशिप नहीं मिल पा रही है, और वे इस मुद्दे पर बात नहीं कर रहे हैं।”

बता दें कि भारत ने कश्मीर के उरी में हुए आतंकी हमले के जवाब में 29 सितंबर 2016 को LoC पारकर सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया था। भारत ने इस ऑपरेशन में आतंकियों के कई ठिकानों को ध्वस्त कर दिया था, इस ऑपरेशन में लगभग 30 से 40 आतंकी मारे गये थे। नरेंद्र मोदी सरकार ने बुधवार शाम को इस गुप्त ऑपरेशन का वीडियो मीडिया को जारी किया था। इसके बाद कांग्रेस मौजूदा बीजेपी सरकार पर हमलावर हो गई है। कांग्रेस ने गुरुवार को मोदी सरकार पर आरोप लगाया कि केंद्र सरकार ने 2016 में जम्मू एवं कश्मीर में नियंत्रण रेखा के पार पाकिस्तान में किए गए सर्जिकल स्ट्राइक का राजनीतिकरण कर वोट बटोरने का काम किया। कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने सशस्त्रबलों के 70 साल की बहादुरी और बलिदान से भरे इतिहास का अपने भद्दे बयान से अपमान किया है।सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और उनकी पूर्ववत सोनिया गांधी ने 2016 सर्जिकल स्ट्राइक के लिए केंद्र सरकार और सरकार का समर्थन किया था।

सुरजेवाला ने कहा कि भारतीय सेना ने बीते दो दशकों में विभिन्न स्थानों पर अत्यंत सटीकता के साथ सर्जिकल स्टाइक किए हैं। उन्होंने 2016 से पहले हुई आठ सर्जिकल स्ट्राइक का ब्योरा पेश किया। सुरजेवाला ने कहा, “हमें गर्व है कि हमारी सेना ने बीते दो दशकों में कई सर्जिकल स्ट्राइक किए, जिनमें साल 2000 के बाद हुए सर्जिकल स्ट्राइक प्रमुख हैं। 21 जनवरी 2000 को (नडाला एनक्लेव, नीलम नदी के पार), 18 सितंबर 2003 (बारोह सेक्टर, पुंछ), 19 जून, 2008 (भट्टल सेक्टर), 30 अगस्त से एक सितंबर 2011 (शारदा सेक्टर, केल में नीलम नदी घाटी), छह जनवरी 2013 (सावन पत्र चेकपोस्ट), 27 से 28 जुलाई 2013 (नाजापीर सेक्टर), छह अगस्त 2013 (नीलम घाटी), 14 जनवरी 2014, 28 से 29 सितंबर 2016 में सर्जिकल स्ट्राइक हुई।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Mumbai Plane Crash: घाटकोपर में चार्टर्ड प्‍लेन कैश में 5 लोगों की मौत, देखें दर्दनाक हादसे की तस्‍वीरें
2 PNB SCAM: मेहुल चोकसी ने कहा-मी लॉर्ड, मॉब लिंचिंग का चल रहा दौर, इसलिए भारत आने से लगता है डर
3 25 करोड़ का टैक्स घटाकर किया 1 करोड़, बदले में मांगे दो करोड़, IRS अफसर को 5 साल की सजा