ताज़ा खबर
 

जासूस ने प्राइवेट बातें जानने के ल‍िए राखी सावंत सहित कई सेलेब्‍स को ग‍िफ्ट क‍िया आईफोन, धराया

आरोपी ने पुलिस को बताया कि इन सभी सितारों को मांगले ने आईफोन 6 गिफ्ट किया। लेकिन ये सितारे नहीं जानते थे कि इस शख्स ने इन आईफोन्स में जासूसी करने वाले एप इंस्टॉल कर रखे हैं।

Author Updated: November 10, 2017 1:25 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर।

मुंबई पुलिस ने एक ऐसे शातिर जासूस को गिरफ्तार किया है जो बॉलिवुड सितारों की निजी बातें सुनता था और इसके बाद उन्हें ब्लैकमेल करना चाहता था। इस प्लान को अमली जामा पहनाने के लिए इस शख्स ने फिल्म इंडस्ट्री के एक्टर्स को आईफोन गिफ्ट किया। आईफोन पाने की लालच में कई नामी गिरामी सितारे जैसे जरीन खान, राखी सावंत इस शख्स से तोहफा लेने पहुंचे। लेकिन उन्हें ये पता नहीं था कि इस फोन में इस जासूस ने ऐसे एप डाल रखे हैं जिनके जरिये वो उनकी निजी बातें सुनता था और उन्हें ब्लैकमेल करने की साजिश रच रहा था। सतीश मांगले नाम का ये आरोपी महज दसवीं पास है और कम्प्यूटर डिप्लोमा का ड्रापआउट स्टूडेंट है। लेकिन तकनीक के इस जुनून ने इसे अपराध की दुनिया में ला खड़ा किया। ठाणे पुलिस ने इस शख्स को एक आईएएस अधिकारी राधेश्याम मोपलवार को ब्लैकमेल करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। पुलिस की पूछताछ में जो बाते सामने आ रही है वो काफी चौकाने वाली हैं। पिछले साल सतीश मांगले और उसकी पत्नी श्रद्धा ने मुंबई के बोरिवली में एक स्पा लॉन्च किया। यहीं से इनके तार जुड़े बॉलिवुड सितारों के साथ।

इन दोनों पति-पत्नी ने अपने स्पा में राखी सावंत, मुकेश ऋषि, बिग बॉस सेलिब्रेटी गौतम गुलाटी, अभिनेत्री जरीन खान, विन्दू दारा सिंह और सोनाली राउत जैसे स्टार्स को बुलाया। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक मांगले ने पुलिस को बताया कि इन सभी सितारों को मांगले ने आईफोन 6 गिफ्ट किया। लेकिन ये सितारे नहीं जानते थे कि इस शख्स ने इन आईफोन्स में जासूसी करने वाले एप इंस्टॉल कर रखे हैं। सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर प्रदीप शर्मा के मुताबिक मांगले ने दावा किया कि वह इन सितारों की गोपनीय बातें सुनना चाहता था और बाद में उन्हें ब्लैकमेल करना चाहता था। ठाणे पुलिस अब इस बात की जानकारी लगाने की कोशिश कर रही है कि निजी जासूसी का धंधा करने वाले सतीश मांगले इन फोन्स में ऐसे एप कैसे डाले। आईफोन एक्सपर्ट का कहना है कि आईफोन में किसी भी अनाधिकृत एप को डालना लगभग आम आदमी के लिए लगभग असंभव है। ऐसे में सतीश मांगले की ये करतूत काफी हैरान करने वाली है। लेकिन आईटी इंजीनियर्स के मुताबिक एक तरीका है जिसके जरिये आईफोन में भी अलग से एप इंस्टॉल किये जा सकते हैं। इसे ‘जेलब्रेकिंग’ कहते हैं।

सतीश मांगले ने पुलिस को बताया कि उसके दोस्त जिगर ने, जो खुद भी जासूसी एजेंसी चलाता है, ने इन आईफोन्स का जेल ब्रेक कर इनमें जासूसी वाले एप डाले। दरअसल सामान्य शब्दों में जेलब्रेकिंग का मतलब आईफोन्स में कंपनी द्वारा लगाया गये सिक्यूरिटी सॉफ्टवेयर को तोड़ना है। इसके बाद इस फोन में भी आप अवैध एप डाल सकते हैं। पुलिस अब इस मामले में जिगर से भी पूछताछ करने वाली है। कुछ दावों के मुताबिक मांगले ने फिल्म स्टार्स के फोन की क्लोनिंग कर ली थी और उनकी बातचीत सुना करता था। पुलिस का कहना है कि मांगले ने सात ई मेल अकाउंट बना रखे थे। इन ई मेल में उसने लगभग 4 हजार कॉल रिकॉर्ड्स सेव कर रखे थे। पुलिस अब इन कॉल रिकॉर्ड्स का विशलेषण कर रही है। पुलिस इस मामले में बॉलिवुड के कुछ सितारों से भी पूछताछ करने वाली है। ताकि ये पता लगाया जा सके कि मांगले ने किसी से वसूली तो नहीं की थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 बुलंद हौसलों से बदला माहौल
2 पीवी सिंधु ने एयरलाइंस स्टाफ पर लगाया बदसलूकी का आरोप
3 मुंबई मेट्रो की प्रस्तावित सुंरग के विरोध में पारसी धर्मगुरूओं का पीएम को पत्र, लिखा- इससे भारी नुकसान हो जाएगा