ताज़ा खबर
 

भारतीय सैनिक चंदू चव्हाण को पाकिस्तान से लाने की कोशिशें जारी, रक्षा राज्यमंत्री बोले- और वक्त लगेगा

37 राष्ट्रीय राइफल्स का जवान चव्हाण बीते 30 सितंबर को गलती से नियंत्रण रेखा के पार चला गया था।
Author मुंबई | November 11, 2016 19:56 pm
सिपाही चंदू बाबूलाल चव्हाण। (फाइल फोटो)

रक्षा राज्य मंत्री सुभाष भामरे ने शुक्रवार (11 नवंबर) को कहा कि 22 साल के भारतीय सैनिक चंदू चव्हाण को पाकिस्तान से सुरक्षित वापस लाने की कोशिशें लगातार की जा रही हैं, लेकिन इस प्रक्रिया में और वक्त लगेगा। एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए यहां आए भामरे ने बताया कि पाकिस्तान और भारत के बीच तनाव भरे रिश्तों के मद्देनजर पाकिस्तान सरकार का यह कबूलनामा अहम है कि चव्हाण उनके कब्जे में है। भामरे ने कहा, ‘ऐसे जवानों को सौंपने के मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान के बीच एक आधिकारिक समझौता है, लेकिन मौजूदा माहौल में उसे वापस लाने में और वक्त लगेगा।’

उन्होंने कहा, ‘हमने समझौते का हवाला दिया है और पाकिस्तान सरकार को इस बारे में बताया है। यह सच है कि दोनों सरकारों के बीच का रिश्ता (नियंत्रण रेखा के पार हुए लक्षित हमले के बाद) थोड़ा तनाव भरा है। लेकिन हम अपनी कोशिशें जारी रखेंगे और उन्हें वापस लाएंगे।’ इससे पहले, पाकिस्तानी थलसेना ने इस बात से इनकार किया था कि उसने किसी ऐसे जवान को पकड़ा है जो सितंबर में हुए लक्षित हमलों के बाद नियंत्रण रेखा गलती से पार कर गया था। 37 राष्ट्रीय राइफल्स का जवान चव्हाण बीते 30 सितंबर को गलती से नियंत्रण रेखा के पार चला गया था। इसके बाद सैन्य अभियान महानिदेशक (डीजीएमओ) की ओर से पाकिस्तान को हॉटलाइन पर सूचित किया गया था।

प्रमुख ख़बरों के वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.