मां का गला काटा, फिर सात घंटे तक लाश के साथ बैठा रहा, खुद थाने जाकर जुर्म कबूला

हत्या के घंटों बाद शव के पास बैठा हत्या योगेश शिनॉय गुरुवार (29 नवंबर, 2018) सुबह खुद पुलिस स्टेशन पहुंचा और अपना गुनाह कबूल कर लिया।

तस्वीर का प्रयोग प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

मुंबई के बोरीवली से हत्या की ऐसी घटना सामने आई है, जिसे आम इंसान सुन ले तो उसकी रुह कांप जाए। यहां एक शख्स ने अपनी 80 वर्षीय बुजुर्ग मां की हत्या कर दी और खुद शव के पास सात घंटों से ज्यादा समय तक बैठा रहा। खबर के मुताबिक हत्या के घंटों बाद शव के पास बैठा हत्या योगेश शिनॉय गुरुवार (29 नवंबर, 2018) सुबह खुद पुलिस स्टेशन पहुंचा और अपना गुनाह कबूल कर लिया। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 के तहत केस दर्ज कर लिया है। पुलिस को शक है कि 53 साल के शिनॉय ने आर्थिक तंगी के चलते मां की हत्या कर दी। एमएचबी कॉलोनी के सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर पंडित ठाकुर ने बताया कि मां से लगातार झगड़े और उनकी मेडिकल फीस की वजह से आरोपी ने इस घटना को अंजाम दिया। हत्या का एक कारण यह भी है कि आरोपी मेडिकल फीस पे करने में सक्षम नहीं था।

मामले में आरोपी के मकान मालिक दर्शन घेणे ने एक एक समाचार पत्र को बताया कि मां की देखभाल के लिए शिनॉय ने करीब दो महीने पहले नौकरी छोड़ दी। वह एक होटल में अकाउंटेंट था। मां रक्त चाप और स्पोंडिलोसिस की मरीज थीं। दोनों ही बोरीवली स्थित एक चॉल में रहते थे। आरोपी की पत्नी भी उसके साथ नहीं रहती जबकि सालों पहले पिता और भाई का देहांत हो चुका है। घेणे के मुताबिक पड़ोसियों का कहना है कि मां-बेटे दोनों एक दूसरे के प्रति निष्ठावान थे। दोनों दशकों से घेणे किराएदार रहे हैं। दोनों पड़ोस में किसी से ज्यादा बात भी नहीं करते थे।

पुलिस के मुताबिक शिनॉय की माली हालत बेहद खराब थी और पिछले दो सालों से किराए भी नहीं दिया। जबकि महीने का किराया महज 35 रुपए था। आरोपी मां लतिता की दवाईयां खरीदने में भी सक्षम नहीं था। हत्या के आरोपी ने खुद पुलिस को बताया कि उसने मां की हत्या की। आरोपी ने इकबालिया बयान में बताया कि उसने रात के दो बजे मां ललिता को बेहोश की तेज दवा पिला दी। ऐसा हत्या के इरादे से किया गया। इसके बाद तकिए से गला घोंट दिया। हत्या की दोनों कोशिशों के बाद भी जब मां नहीं मरी तो पेपर कटर से गला रेत दिया। मां की हत्या के कई घंटों तक आरोपी शव के पास ही बैठा रहा। अगले सुबह करीब साढ़े नौ बजे पुलिस को हत्या की जानकारी देकर अपने आप को पुलिस के हवाले कर दिया। आरोपी ने बताया कि उसे समझ नहीं आया कि क्या करे। शिनॉय अभी पुलिस हिरासत में है।

Next Stories
1 कन्‍हैया कुमार बोले- मोदीजी रोते बहुत हैं, राम से ज्‍यादा अपने काम की चिंता करे सरकार
2 महाराष्‍ट्र के इस गांव में शादी के लिए दहेज देते हैं पुरुष, जानिए क्‍या है वजह
3 उस दिन हंस-हंसकर गोलियां बरसा रहा था कसाब, रेलवे अनाउंसर ने याद किया 26/11 का मंजर
यह पढ़ा क्या?
X