ताज़ा खबर
 

Mumbai Plane Crash: घाटकोपर में चार्टर्ड प्‍लेन कैश में 5 लोगों की मौत, देखें दर्दनाक हादसे की तस्‍वीरें

Mumbai Chartered Plane Crash Today, Ghatkopar Mumbai Plane Crash Latest News: अग्निशमन अधिकारी ने कहा, ‘‘हमारे नियंत्रण कक्ष को दिन में एक बजकर 15 मिनट पर विमान हादसे की जानकारी वाला फोन कॉल आया। इसके तुरंत बाद हमारे जवान बचाव अभियान के लिये मौके की तरफ रवाना हुये।’’

हादसे के बाद घाटकोपर में जलता विमान का मलबा। (फोटो-पीटीआई)

मुंबई के एक भीड़भाड़ वाले इलाके में आज (28 जून दोपहर एक विमान के परीक्षण उड़ान के दौरान दुर्घटनाग्रस्त होने से पांच लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि विमान घाटकोपर इलाके में दुर्घटनाग्रस्त हुआ और मरने वालों में विमान में सवार दो पायलट, दो उड़ान इंजीनियर और एक पदयात्री शामिल हैं। उन्होंने कहा कि जुहू हवाई पट्टी से उड़ान भरने वाला 12 सीटों का किंग एयर सी 90 विमान घाटकोपर के जागृति नगर क्षेत्र में दुर्घटनाग्रस्त हुआ।

एक अधिकारी ने कहा कि नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) के अधिकारियों का एक दल जांच के लिये घटना स्थल पहुंच गया है। अधिकारी ने कहा कि पुलिस , दमकल की गाड़ियां और आपदा प्रबंधन की टीमें घटना स्थल पर पहुंचीं। मृतकों के शवों को घाटकोपर के राजावाड़ी अस्पताल ले जाया गया है। एक अग्निशमन अधिकारी ने कहा, ‘‘हमारे नियंत्रण कक्ष को दिन में एक बजकर 15 मिनट पर विमान हादसे की जानकारी वाला फोन कॉल आया।

इसके तुरंत बाद हमारे जवान बचाव अभियान के लिये मौके की तरफ रवाना हुये।’’ अधिकारी ने कहा कि दमकल की चार गाड़ियों और पानी के चार टैंकरों को विमान हादसे के बाद लगी आग बुझाने के लिये भेजा गया है।

एक प्रत्यक्षदर्शी ने कहा कि दुर्घटना स्थल के पास से गुजरने वाला एक राहगीर विमान से गिरते जलते ईंधन की चपेट में आ गया। इस शख्स की मौत हो गयी। प्राथमिक सूचना के अनुसार, विमान परीक्षण उड़ान पर था और इसने दुर्घटनाग्रस्त होने से कुछ मिनट पहले जुहू हवाईअड्डे से उड़ान भरी थी।दुर्घटना के कारणों का पता नहीं चल सकता है। यह दुर्घटना एक निर्माणाधीन इमारत के परिसर में हुई। हालांकि ब्लैकबॉक्स बरामद कर लिया गया है।

हादसे में मारे गये लोगों की पहचान कर ली गई है। इनमें पायलट मारिया कुबेरे, को पायलट राजपूत, इंजीनियर सुरभि और टेक्निशियन मनीष पांडे शामिल हैं। पांचवें शख्स की पहचान गोविंद पंडित के रूप में हुई है।  चार लोगों की ये टीम   विमान को ट्रायल के लिए लेकर निकली थी। कहा जा रहा है कि पायलट ने सूझ-बूझ के तहत ही निर्माणाधीन बिल्डिंग पर प्लेन को गिराया, अन्यथा और लोगों की भी जान जा सकती थी।

विमान हादसे की जांच के लिए DGCA KR जांच टीम घटनास्थल पर पहुंच गई है। टीम के सदस्य स्न्फिर डॉग लेकर पहुंचे हैं। ताकि सबूत इक्ट्ठा किये जा सके साथ ही घटना की दूसरे एंगल से भी जांच की जा सके। इस बीच पता चला है कि हादसाग्रस्त विमान 23 साल पुराना था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App