ताज़ा खबर
 

महाड़ पुल हादसा: नदी में तीन और शव मिले, मृतकों की संख्या 17 पहुंची

मुंबई-गोवा राजमार्ग पर महाड़ के नजदीक बना महाड़ पुल मंगलवार (2 अगस्त) की रात टूट गया था। यह स्थान मुंबई से 170 किलोमीटर के फासले पर है।

Author मुंबई | August 5, 2016 2:09 PM
Mahad Tragedy, Mahad Navy diver, SUV debris, Mahad Bridge Tragedy, Mahad Tragedy News, Mahad Newsरायगढ़ जिले में महाड़ के नजदीक अंग्रजों के जमाने का बना पुल एक तरफ से ध्वस्त हो गया (PTI Photo by Santosh Hirlekar)

सावित्री नदी में शुक्रवार (5 अगस्त) को तीन और शव दिखाई दिए। रायगढ़ जिले के महाड़ के नजदीक अंग्रेजों के जमाने का एक पुल टूट जाने के बाद दो बसों समेत कुछ निजी वाहन सावित्री नदी में बह गए थे। भारी बरसात के बीच खोज अभियान जारी हैं। इसके साथ ही मृतकों का आंकड़ा 17 तक पहुंच गया है। रायगढ़ के पुलिस अधीक्षक संजय पाटिल ने बताया, ‘कल (गुरुवार, 4 अगस्त)) रात तक 14 शव निकले गए थे। खोज दलों को आज (शुक्रवार, 5 अगस्त) सुबह तीन और शव दिखे हैं।’ उन्होंने बताया कि शवों को निकालने के प्रयास जारी हैं।

पाटिल ने बताया, ‘जब दल शवों को नदी में से निकाल लेंगे तो उन्हें पोस्टमार्टम के लिए स्थानीय अस्पताल भेजा जाएगा। इसके बाद हम शवों को रिश्तेदारों के हवाले कर देंगे।’ उन्होंने बताया कि खोज अभियान में 20 नावें, तट रक्षक बल, राष्ट्रीय आपदा राहत बल और नौसेना के लगभग 160 जवान जुटे हुए हैं। जिला प्रशासन स्थानीय मछुआरों की भी मदद ले रहा है। एक अन्य पुलिस अधिकारी ने बताया कि कुछ शव दुर्घटनास्थल से 120 किमी दूर तक मिले हैं। उन्होंने बताया कि जब तक हादसे की शिकार बसों और अन्य चौपहिया वाहनों के सभी सवारों का पता नहीं चल जाता है तब तक तलाश अभियान जारी रहेगा।

उन्होंने कहा, ‘हमने तलाश अभियान का दायरा बढ़ा दिया है। सावित्री नदी के किनारे रहने वाले स्थानीय लोगों को भी सूचित कर दिया है। उनसे कहा है कि पानी में कुछ भी दिखाई देने पर वे हमें तुरंत सूचित करें।’ उन्होंने कहा कि लगातार हो रही बारिश के कारण खोज अभियान प्रभावित हो रहा है। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने गुरुवार (4 अगस्त) को विधानसभा में बताया था कि आठ शव मिल चुके हैं और 42 लोग लापता हैं। उन्होंने कहा था कि सरकार हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को पांच लाख रुपए का मुआवजा देगी। सरकार पहले यह घोषणा कर चुकी है कि हादसे के शिकार सरकारी बसों के कर्मचारियों के परिजन को वह दस लाख रुपया या नौकरी देगी।

फडणवीस ने बताया कि दो सरकारी बसों के अलावा एक टवेरा और एक होंडा कार भी नदी में गिरी थी। मुंबई-गोवा राजमार्ग पर महाड़ के नजदीक बना यह पुराना पुल मंगलवार (2 अगस्त) की रात टूट गया था। यह स्थान मुंबई से 170 किलोमीटर के फासले पर है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पंकज भुजबल को हाई कोर्ट से राहत, 8 अगस्त तक नहीं होगी गिरफ्तारी
2 डाभोलकर-पानसरे हत्या: बम्बई हाई कोर्ट ने जांच में देरी पर सीबीआई-एसआईटी को फटकारा
3 महाड़ पुल ध्वस्त: सरकार ने दिए न्यायिक जांच के आदेश, पांच शव बरामद हुए
ये पढ़ा क्या?
X