ताज़ा खबर
 

शादी के चार दिन बाद ही पत्नी को उतारा मौत के घाट, शव के टुकड़े कर शहर के अलग-अलग हिस्सों में फेंका

हत्या के आरोपियों की पहचान पति सिद्धार्थ (25), पिता मनोहर (50) और मां माधुरी (48) के रूप में की है।

इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है (फाइल फोटो)

मुंबई के समीप शाहपुर क्षेत्र में हत्या का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां शादी के महज चार दिन पति और उसके मां-बाप द्वारा पत्नी की बर्बरता से हत्या कर दी गई। हत्या के आरोपियों की पहचान पति सिद्धार्थ (25), पिता मनोहर (50) और मां माधुरी (48) के रूप में की है। दूसरी तरफ पुलिस ने हत्या मामले में सफलता हासिल करते हुए पत्नी प्रियंका गौरव (23) का कटा हुआ सिर बरामद कर लिया है। वहीं पुलिस ने कथित तौर पर प्रियंका गौरव की हत्या में मदद और उसके शव के साथ बबर्रता के शक में सिद्धार्थ के सहयोगी प्रदीप जैन (34) को बीते रविवार (14 मई, 2017) को गिरफ्तार कर लिया था।

बता दें 5 अप्रैल, 2017 को पति सिद्धार्थ ने पत्नी प्रियंका के गुम होने की रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई थी। साथ ही वर्ली पुलिस से जल्द से जल्द पत्नी को खोजने की गुहार लगाई। वहीं पुलिस ने इसी सप्ताह औद्योगिक क्षेत्र नुल्लाह से प्रियंका का शव बरामद किया था। जहां शव के साथ बर्बरता की गई थी। शव का सिर ना होने की वजह से पुलिस को शव की पहचान करने में खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। हालांकि बाद में प्रियंका के शरीर पर बने गणपति के टैटू की वजह से शव की पहचान कर ली गई।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 7 Plus 32 GB Black
    ₹ 59000 MRP ₹ 59000 -0%
    ₹0 Cashback
  • Micromax Vdeo 2 4G
    ₹ 4650 MRP ₹ 5499 -15%
    ₹465 Cashback

मामले में ज्यादा जानकारी देते हुए राबेल एमआईडीसी पुलिस स्टेशन के सीनियर इंस्पेक्टर सी काटकर ने बताया, ‘आरोपी सिद्धार्थ ने बीती चार अप्रैल को खुद तकिए से पत्नी से मुंह दबाकर हत्या की। बाद में शव के साथ बर्बरता करते हुए उसे कई हिस्सों में बांट दिया और शहर के अलग-अलग हिस्सों में उसे फेंक दिया। सी काटकर ने आगे बताया कि हमने बीते शनिवार (13 मई, 2017) को’ प्रियंका की टांग बदलापुर से बरामद की थी। हत्या से कई लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

उत्तर प्रदेश: भूमि विवाद को लेकर गुंडों ने पुलिस स्टेशन के अंदर की महिला की हत्या

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App