ताज़ा खबर
 

कांग्रेस में शामिल हुए बॉम्‍बे हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज अभय थिप्‍से, राहुल गांधी संग खिंचाई फोटो

बॉम्बे हाईकोर्ट के जज के रूप में अपनी सेवाएं देने से पहले जस्टिस थिप्से सिटी जज और सेशन कोर्ट के जज रह चुके हैं। वह बडोदरा के बेस्ट बेकरी केस की अध्यक्षता भी कर चुके हैं।

(ANI)

बॉम्बे हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज अभय थिप्‍से कांग्रेस अक्ष्यक्ष राहुल गांधी की मौजूगी में मंगलवार (12 जून, 2018) को पार्टी में शामिल हो गए हैं। पूर्व के जज के साथ मीटिंग के बाद राहुल गांधी ने कहा कि दोनों के बीच मुलाकात बहुत अच्छी रही। कांग्रेस में शामिल होने के बाद अभय थिप्से ने इंडियन एक्सप्रेस के कहा, ‘फासीवादी ताकतों के सामने खड़ा होना जरूरी है। झूठी ऐतिहासिक पटकथा लिखी जा रही हैं। संवैधानिक सिद्धांतों को बरकार रखा जाना जरूरी है। आक्रमक राष्ट्रवाद की आड़ में सांप्रदायिकता फैलाई जा रही है। इन सभी ताकतों के खिलाफ अकेले लड़ना असंभव है।’ इलाहाबाद हाईकोर्ट में अपनी सेवाएं दे चुके पूर्व जज ने कहा कि कांग्रेस सबसे बड़ी और पुरानी राष्ट्रीय पार्टी है। इसलिए उन्हें लगा कि इन कामों को करने के लिए एक मंच का होना जरूरी है।

थिप्‍से से जब पूछा गया कि पार्टी में उनकी क्या भूमिक होगी, इसका उन्होंने जवाब नहीं दिया। हालांकि उन्होंने साफ कर दिया कि वो चुनावी राजनीति में शामिल नहीं होने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सत्ताधारी पार्टी में शामिल होने से भी महत्वाकांक्षा पूरी हो सकती थी और ऐसा करने का उनके पास पूरा मौका है, लेकिन अगर आप किसी चीज पर विश्वास करते हैं तो कोई समझौता नहीं किया जा सकता। इसके अलावा महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष अशोक चव्हाण ने भी पूर्व जज के कांग्रेस में शामिल होने की पुष्टि की है।

बता दें कि बॉम्बे हाईकोर्ट के जज के रूप में अपनी सेवाएं देने से पहले जस्टिस थिप्से सिटी जज और सेशन कोर्ट के जज रह चुके हैं। वह बडोदरा के बेस्ट बेकरी केस की अध्यक्षता भी कर चुके हैं। यह केस गुजरात से मुंबई ट्रांसफर किया गया था। साल 2016 में बेस्ट बेकरी केस में उन्होंने 9 लोगों को दोषी करार दिया जबकि 8 आरोपियों को बरी कर दिया। एक मार्च, 2002 को गुजरात दंगों के दौरान बेस्ट बेकरी कांड में 14 लोगों की मौत हो गई थी। इन लोगों को जिंदा जला दिया गया था। थिप्से इंटरनेशनल स्तर पर शतरंज के खिलाड़ी और इसके कोच रह चुके हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App