ताज़ा खबर
 

मेयर के नए घर पर बीएमसी ने 20 दिन में खर्च कर डाले 65 लाख रुपए, 33 लाख सिर्फ बागीचे पर

एक अधिकारी ने बताया कि 22 लाख रुपए नवीनीकरण, रंगाई और बंग्ले की मरम्मत में खर्च हो गए। इसके अलावा दस लाख रुपए बंग्ले के अंदर की फिटिंग में खर्च हो गए।

Author March 17, 2019 1:04 PM
मेयर विश्वनाथ महादेश्वर।

बृहन्मुंबई नगर पालिका (बीएमसी) ने बायकला में स्थित नए मेयर के निवास पर जनवरी के बीस दिन में 65.46 लाख रुपए खर्च कर दिए। मेयर विश्वनाथ महादेश्वर जनवरी के आखिरी सप्ताह में अपने नए आधिकारिक निवास पर चले गए थे, चूंकि शिवाजी पार्क में स्थित उनका बंग्ला प्रस्तावित बाल ठाकरे स्मारक के लिए खाली कराया गया था। मेयर महादेश्वर का नया बंग्ला 6,000 वर्ग मीटर में फैला है। एक अधिकारी ने बताया कि 22 लाख रुपए नवीनीकरण, रंगाई और बंग्ले की मरम्मत में खर्च हो गए। इसके अलावा दस लाख रुपए बंग्ले के अंदर की फिटिंग में खर्च हो गए। 33.46 लाख रुपए सौंदर्यीकरण और बगीचे को संवारने में खर्च हो गए।

साल 2017 में बीएमसी ने अतिरिक्त नगरपालिका आयुक्त (सिटी) ए एल जरहद को उसी बंगले में स्थानांतरित करने से पहले मरम्मत के लिए लगभग 80 लाख रुपए खर्च किए थे। जरहद ने दिसंबर 2018 में बंगला खाली कर दिया था। बीएमसी के अधिकारी ने बताया, ‘2017 में बंग्ला बड़ी मरम्मत के दौर से गुजरा। जनवरी में 20 दिनों के लिए बंग्ले के नवीनीकरण का एक और दौर शुरू हुआ। मेयर के सुझाव के बाद बंग्ले में कई बदलाव भी किए गए। बंग्ले का फ्लोर एरिया 2,370 वर्ग मीटर है। परिसर में एक लॉन भी है। इसके अलावा पार्किंग के लिए कुछ खाली जगह भी बनाई गई। तो पिछले दो सालों में बीएमसी बंग्ले के नवीनीकरण और मरम्मत पर 1.45 करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च कर दिए।’

मामला प्रकाश में तब आया जब लोकसभा चुनाव के लिए आदर्श आचार संहिता लागू होने से ठीक पहले पिछले शुक्रवार को बीएमसी की स्थाई समिति की बैठक में बंगले के लिए बगीचे से संबंधित कार्यों पर 33.46 लाख रुपए खर्च करने के बारे में एक प्रस्ताव पारित किया गया था। 25 मिनट की सिंगल मीटिंग में तब 65 से अधिक प्रस्ताव पास किए गए। प्रस्ताव के मुताबिक बीएमसी ने बगीचे के काम के लिए बिना टेंडर मंगवाए कॉन्ट्रैक्ट देना का निर्णय लिया। कॉन्ट्रैक्ट मुंबई नगर निगम अधिनियम की धारा 72 (3) के तहत प्रदान दिया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App