ताज़ा खबर
 

आडवाणी के पुराने सहयोगी ने कहा- राहुल गांधी को पीएम देखना चाहता हूं, नरेंद्र मोदी हुए फेल

पड़ोसी पाकिस्तान और चीन के साथ मतभेदों को गिनाते हुए आडवाणी के करीबी नेता ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बड़ी समस्याओं का समाधान करने में नाकाम साबित हुए हैं।

Author Published on: June 19, 2018 9:47 AM
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और बीजेपी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी (पीटीआई फाइल फोटो)

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी के पूर्व सहयोगी सुधींद्र कुलकर्णी ने कहा है कि भारत को एक ऐसे नेता की जरूरत है जो कश्मीर मुद्दे जैसी ‘बड़ी समस्याओं’ का समाधान कर सके। इसलिए भविष्य में वह कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी को प्रधानमंत्री के तौर पर देखना चाहेंगे। पड़ोसी पाकिस्तान और चीन के साथ मतभेदों को गिनाते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बड़ी समस्याओं का समाधान करने में नाकाम साबित हुए हैं। करीब एक सप्ताह पहले मुंबई में आयोजित एक पैनल डिस्कशन में उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष की तारीफ करते हुए कहा कि राहुल गांधी एक अच्छे दिल वाले नेता हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान संग विवादों को सुलझाने का बातचीत ही एकमात्र रास्ता है और भारत को महान राष्ट्र बनाने के लिए पड़ोसी देशों के साथ संबंधों को सामान्य बनाना बहुत जरूरी है।

ऑल इंडिया प्रोफेशनल कांग्रेस द्वारा आयोजित किए कार्यक्रम में कुलकर्णी ने कहा, ‘हमें यह बताना होगा कि पाकिस्तान के साथ समस्या हल करने के लिए क्या जरूरी है। यही कारण है कि मैंने सुझाव दिया है कि भविष्य में राहुल गांधी को प्रधानमंत्री के रूप में देखाना चाहूंगा। बता दें कि इस कार्यक्रम का आयोजन कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद द्वारा किया गया था, जहां ‘स्पेक्ट्रम पॉलीटिक्स’ लांच की गई।

कार्यक्रम में कुलकर्णी ने आगे कहा कि राहुल गांधी नौजवान हैं और वह आदर्शवादी है। वह करुणा वाले आदमी हैं। आज के टाइम में कोई ऐसा राजनेता नजर नहीं आता जो प्यार की भाषा बोलता हो। स्नेह और करुणा की भाषा बोलता हो। आडवाणी के पूर्व सहयोगी ने आगे कहा, ‘2019 के लोकसभा चुनाव से पहले राहुल गांधी को पड़ोसी देश जैसे- पाकिस्तान, चीन, बांग्लादेश का दौरा करना चाहिए। जैसे राजीव गांधी ने किया जब वो विपक्ष में थे। वह अफगानिस्तान गए। उसी तरह राहुल गांधी को पाकिस्तान, चीन और बांग्लादेश जाना चाहिए और समस्या के समाधान के लिए नए विचारों वाले नेता के रूप में उभरना चाहिए जिन्हें सुलझाने में पीएम नरेंद्र मोदी नाकाम रहे हैं।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories