ताज़ा खबर
 

शिवसेना के साथ तनातनी के बीच प्रधानमंत्री मोदी ने दी जयंती पर बाल ठाकरे को श्रद्धांजलि, बताया- साहस का प्रतीक

शिवसेना और बीजेपी की बीच बृहन्‍मुंबई महानगरपालिका चुनावों में गठबंधन को लेकर गतिरोध बना हुआ है।

Author Updated: January 23, 2017 11:33 AM
shiv sena, saamna, BJP, assembly election results, election results 2016, shiv sena BJP, assam result, BJP win assam, west bengal election results, tamilnadu elction results, shiv sena newsशिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे (बाएं) और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार (22 जनवरी) को पूर्व शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे को ट्विटर पर याद किया। उन्होंने बाल ठाकरे के 91 वीं जयंती से एक शाम पहले उन्हें याद करते हुए ट्वीट किया। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा कि, “बालासाहेब ठाकरे व्यक्तिगत् साहत और कई लोगों की उम्मीदों की आवाज़ थे। उनके जन्मदिन पर उनको श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।” बाल ठाकरे 23 जून 1926 को महाराष्ट्र के पुणे शहर में पैदा हुए थे। साल 1966 में उन्होंने शिवसेना नाम से एक पार्टी का गठन किया। शिवसेना ने 1990 के दशक में राजनीति कई सफलता अपने नाम की। बाल ठाकरे अपनी तेज-तर्रार भाषणों और हिंदुत्व का राजनीति के लिए जाने जाते रहे। साल 2012 में उनका स्वर्गवास हो गया। प्रधानमंत्री मोदी की ये श्रद्धांजलि इसलिए भी अहम है क्योंकि शिवसेना और भाजपा का रिश्तें में तनातनी बनी हुई है। कई बार सामना में भाजपा की, और खासकर प्रधानमंत्री मोदी की भी जमकर आलोचना की जाती है।

 

दोनों पार्टियों में बृहन्‍मुंबई महानगरपालिका चुनावों में गठबंधन को लेकर भी गतिरोध बना हुआ है। शिवसेना ने बीजेपी को 60 सीटें देने का प्रस्‍ताव रखा है, जिसे भाजपा ने अपना अपमान बताया है। हालांकि अभी गठबंधन का रास्‍ता बंद नहीं हुआ है लेकिन दोनों दल एक दूसरे पर हमले बोल रहे हैं। शिवसेना ने पिछले चुनावों में 227 में से 135 सीटों पर चुनाव लड़ा था। इस बार भाजपा का कहना है कि वह 117-120 सीट पर ही लड़े। सूत्रों के अनुसार ठाकरे इस समय किसी तरह की बागी गतिविधियां सहन नहीं कर सकते। पार्टी के एक वरिष्‍ठ नेता ने कहा, ”हमें भाजपा को 85-97 सीटें ऑफर करनी चाहिए थी।” ऐसे समय में पीएम का ट्वीट शायद दोनों दलों में तल्खी को कुछ कम कर पाए।

Next Stories
1 बॉम्बे हाईकोर्ट का बड़ा फैसला- ‘बॉयफ्रेंड से ब्रेकअप पर पढ़ी-लिखी लड़कियां न रोएं रेप का रोना’
2 स्कॉटलैंड यार्ड का दाभोलकर-पानसरे मामलों में मदद से इंकार, बम्बई हाई कोर्ट सीबीआई जांच से ‘नाख़ुश’
3 बीएमसी चुनाव में भाजपा के साथ गठबंधन पर उद्धव ठाकरे चुप
यह पढ़ा क्या?
X