Aurangabad businessman gifts 90 houses to homeless poor on his daughter’s wedding! - औरंगाबाद: बेटी की शादी पर खर्च करने की जगह कारोबारी ने बेघर गरीबों को गिफ्ट किए 90 घर - Jansatta
ताज़ा खबर
 

औरंगाबाद: बेटी की शादी पर खर्च करने की जगह कारोबारी ने बेघर गरीबों को गिफ्ट किए 90 घर

मनोट की बेटी श्रेया अपने पिता के फैसले का समर्थन करती है और वह इस कदम से बेहद खुश है।

कारोबारी की बेटी ने कहा कि वह अपने पिता के फैसले से बेहद खुश है। (Source: ANI News/YouTube)

हाल ही में कर्नाटक के खनन कारोबारी और पूर्व बीजेपी मंत्री गली जर्नादन रेड्डी की बेटी शादी खासी चर्चा में रही थी। उस आलीशान शादी पर 500 करोड़ रुपए के खर्च की रिपोर्ट्स सामने आई थीं। महलों की प्रतिकृति बनाने से लेकर नॉन-वीआईपी के लिए 50 आइटम मेन्‍यू और वी‍आईपी के लिए 100 तरह के लजीज व्‍यंजनों के इंतजाम ने देश भर की मीडिया का ध्‍यान खींचा था। नोटबंदी से परेशान जनता के बीच, ऐसी आलीशान शादी की तस्‍वीरें सामने आने के बाद खासा विवाद भी हुआ था। हालांकि महाराष्‍ट्र के औरंगाबाद में एक कारोबारी ने अपनी बेटी की शादी में कुछ ऐसा किया है, जो संपत्ति के भौंडे प्रदर्शन से ठीक उलट है। मनोज मनोट नाम के कारोबारी ने बेटी की शादी में बेघर गरीबों को 90 घर तोहफे में दिए। एएनआई के मुताबिक, मनोज ने अपनी बेटी की शादी पर भारी रकम खर्च करने की बजाय यह कदम एक युवा बीजेपी विधायक प्रशांत बांब से प्रेरणा पाकर उठाया। मनोट ने शादी पर 70-80 लाख रुपए का खर्च करने की योजना बनाई थी, मगर बाद में उन्‍होंने रकम का इस्‍तेमाल बेहतर काम के लिए करने का फैसला किया।

बताया जाता है कि मनोट की बेटी श्रेया अपने पिता के फैसले का समर्थन करती है और वह इस कदम से बेहद खुश है। एएनआई से बातचीत में उसने कहा कि वह अपने पिता के फैसले को शादी का सबसे बड़ा तोहफा मानती है। द क्विंट की रिपोर्ट के अनुसार, मनोट से मदद पाने वाली शब अली शेख खुश हैं कि अब उन्‍हें और उनके परिवार को पानी और बिजली जैसी मूल जरूरतों की किल्‍लत से नहीं जूझना पड़ेगा। पिता के इस कदम के बारे में खुशी से बताती बेटी का वीडियो आप नीचे देख सकते हैं।

नोटबंदी के बाद से कुछ शादियां खासी चर्चा में रहीं। 4 दिसंबर को केरल कांग्रेस से पूर्व मंत्री अडूर प्रकाश के बेटे और शराब कारोबारी बीजू रमेश की बेटी का मंडप अक्षरधाम के मंदिर जैसा बनाया गया था। वहीं बाकी सारी जगह और एंट्रेंस को मैसूर पैलेस जैसा सजाया गया था।

यूपी के बुलंदशहर में हुई एक शादी में न कोई बैंड-बाजा था और न ही कोई दावत। बारातियों और जनातियों को अगर कुछ मिला तो वो थी सिर्फ एक प्याली चाय। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की बेटी की शादी ने भी मीडिया में सुर्खियां बटोरी थीं।

बेटी की शादी में नहीं खर्च किया पैसा, बेघर लोगों को तोहफे में दिए 90 घर, देखें वीडियो: 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App