ताज़ा खबर
 

कभी IT फर्म का था VP, अब चोरी के आरोप में गिरफ्तार

9 दिसंबर को वाशी में फोर्टिस अस्पताल के बाहर वाहन चालक को गोली मारने की धमकी देकर सेनगुप्ता ने अपराध में इस्तेमाल की गई कार लूटी थी। 2017 में वाशी पुलिस स्टेशन में उनके खिलाफ एक अन्य चोरी का मामला दर्ज किया गया।

मुंबई पुलिस (प्रतीकात्मक फोटो)

एक टेक्नोलॉजी कंपनी में वाइस प्रेजिडेंट के रह चुके वाशी के 35 साल के शख्स को कार-जैकिंग और चेन स्नैचिंग के लिए गिरफ्तार कर लिया गया है। पांच साल पहले सुमित सेनगुप्ता ने अपनी नौकरी छोड़ दी थी। नौकरी छोड़ने का कारण उन्होंने “पारिवारिक समस्या” बताया था। जब सुमित ने अपनी नौकरी छोड़ी उस वक्त सुमित की सैलरी 2.5 लाख रुपए महीने थी। “2015 में, सेनगुप्ता की पत्नी ने वाशी पुलिस स्टेशन में उनके खिलाफ क्रूरता की शिकायत दर्ज कराई थी। निजी कारणों से वह तनाव में था। और जब उसके पास नौकरी नहीं थी, तो उसे अपनी शानदार लाइफस्टाइल को चलाना मुश्किल हो गया। जांचकर्ता अधिकारी विकास गायकवाड़ ने कहा, “वह एक नशे की लत में है।” सेनगुप्ता ने पुलिस को बताया है कि उन्होंने शहर के एक बड़ टेक्निकल इंस्टिट्यूट से अपनी इंजीनियरिंग की और तकनीकी कंपनी के पुणे कार्यालय में काम कर रहा था।

गायकवाड़ ने कहा कि “12 दिसंबर को वाशी में एक महिला की चेन छीनने के 24 घंटे के भीतर, हमने सेनगुप्ता और उनके सहयोगी नितिन अग्रवाल (25) को गिरफ्तार कर लिया। टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक दोनों चोरी की गई कार में थे जब उन्होंने चेन छीनी तो दोनों ने महिला को कुछ दूर तक घसीटा भी। हमारी टीमों ने सेनगुप्ता की एक फोटो प्राप्त करने के लिए इलाके में सीसीटवी कैमरे की फुटेज खंगालीं। हमारे सूचनार्थी के नेटवर्क के माध्यम से, हमें पता चला कि सेनगुप्ता वाशी में ही रहता है और हमने 13 दिसंबर को दोनों को गिरफ्तार किया।”

आगे गायकवाड़ ने बताया कि 9 दिसंबर को वाशी में फोर्टिस अस्पताल के बाहर वाहन चालक को गोली मारने की धमकी देकर सेनगुप्ता ने अपराध में इस्तेमाल की गई कार लूटी थी। उसके पास वास्तव में उस पर बंदूक नहीं थी और उसने उसे डराने के लिए कार चालक के सिर पर लोहे की कोई चीज लगाई थी। इसके तीन दिन बाद उन्होंने यह अपराध किया। 2017 में वाशी पुलिस स्टेशन में उनके खिलाफ एक अन्य चोरी का मामला दर्ज किया गया। हम जांच कर रहे हैं कि क्या उसके खिलाफ किसी और पुलिस स्टेशन में कोई और आपराधिक मामला दर्ज है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App