scorecardresearch

मुंबईः किसी भी सूरत में नहीं छोड़ेंगे उद्धव ठाकरे का साथ- ED की 9 घंटे की लंबी पूछताछ के बाद बोलीं राउत की पत्नी

मुंबईः 1 हजार करोड़ से ज्यादा के पात्रा चॉल घोटाला ईडी ने शनिवार को वर्षा को पूछताछ के लिए बुलाया था। वो तकरीबन 11 बजे ही ईडी दफ्तर पहुंच गई थीं।

मुंबईः किसी भी सूरत में नहीं छोड़ेंगे उद्धव ठाकरे का साथ- ED की 9 घंटे की लंबी पूछताछ के बाद बोलीं राउत की पत्नी
ED के दफ्तर में पेशी के लिए जातीं वर्षा राउत। (एक्सप्रेस फोटो)

शिवसेना के सबसे वफादार सिपाही माने जाने वाले संजय राउत जेल में हैं। ED अब उनकी पत्नी वर्षा राउत से पूछताछ कर रही है। शनिवार को उनसे 9 घंटे सवाल किए गए। लेकिन जब वर्षा बाहर निकलीं तो उनका हौसला देखने लायक था। वो बोलीं कि कुछ भी हो जाए, ये एजेंसियां कितना भी परेशान कर लें पर वो और उनके सांसद पति उद्धव ठाकरे का साथ नहीं छोड़ेंगे।

वर्षा राउत ने पूछताछ के बाद कहा कि जो मालूम था, वो सब मैंने बता दिया। मैंने अपनी तरफ से पूरा सहयोग किया। कुछ भी हो जाए हम उद्धव साहेब को नहीं छोड़ेंगे। 1 हजार करोड़ से ज्यादा के पात्रा चॉल घोटाला ईडी ने शनिवार को वर्षा को पूछताछ के लिए बुलाया था। वो तकरीबन 11 बजे ही ईडी दफ्तर पहुंच गई थीं। उनके साथ बेटी उर्वशी और संजय राउत के भाई सुनील राउत भी ईडी दफ्तर पहुंचे थे।

उधर, सुनील राउत ने सवाल उठाया कि जिस पात्रा चॉल घोटाले में उनकी भाभी से पूछताछ की जा रही है, उसका कॉन्ट्रैक्ट कुल 9 लोगों को दिया गया था। उनमें से एक बीजेपी नेता मोहित कंबोज भी है। क्या उनसे बीजेपी के लोग पूछताछ करवाएंगे। उन्होंने कहा कि मोहित और किरीट सोमैया पर ईडी क्यों नहीं कार्रवाई करती है। उनका कहना था कि नीरव मोदी, ललित मोदी जैसे लोग जो हजारों करोड़ रुपए लेकर भाग गए, उन पर कार्रवाई करने की बीजेपी सरकार में हिम्मत नहीं है।

शिवसेना सांसद संजय राउत को ईडी ने इस मामले में एक अगस्त को गिरफ्तार किया था। एक स्थानीय अदालत ने बृहस्पतिवार को उन्हें आठ अगस्त तक हिरासत में भेज दिया था। राउत के जेल जाने के बाद ईडी ने वर्षा को समन किया था। माना जा रहा है कि घोटाले के तार राउत की पत्नी से भी जुड़े हैं। ईडी मनी लांड्रिंग एक्ट के तहत राउत परिवार पर कार्रवाई कर रही है।

वर्षा से क्यों हो रही पूछताछ

वर्षा राउत के खाते में पात्रा चाल घोटाले के आरोपी प्रवीण राउत की पत्नी के खाते से पैसे ट्रांसफर होने के प्रमाण ईडी को मिले थे। हालांकि मामले ने तूल पकड़ा तो वर्षा राउत ने कुछ पैसा अपने खाते से वापस भी कर दिया था। ईडी का आरोप है कि पात्रा चाल घोटाले के पैसों से अलीबाग के पास संजय राउत ने 8 प्लाट खरीदे।,एजेंसी मनी लांड्रिंग के नजरिए से सारी जांच कर रही है।

पढें महाराष्ट्र (Maharashtra News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.