ताज़ा खबर
 

जन्‍म से दोनों हाथ नहीं थे, मगर 12वीं में फर्स्‍ट डिविजन से पास हुई आंचल बनना चाहती है IAS ऑफिसर

परीक्षा हाल में नियम के अनुसार आंचल को किसी तरह की मदद नहीं मिली, फिर भी उसने किसी तरह पैरों के सहारे परीक्षा दिया।

17 साल की आंचल ने अभी हाल ही में 12वीं की परीक्षा दी है। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

कहते हैं अगर इरादा पक्का हो तो किसी भी हाल में सपनों को पूरा किया जा सकता है। महाराष्ट्र के गडचिरोली में दोनों हाथों के बिना जन्मी आंचल राउत के लिए जीवन जीना काफी कठिन था। लेकिन फिर भी वो हार नहीं मानीं। हर दिन उसके लिए एक इम्तिहान की तरह बिता, फिर भी वो हंसकर संघर्ष करती रही। 17 साल की आंचल ने अभी हाल ही में 12वीं की परीक्षा दी है और उसने साइंस स्ट्रीम से 63 प्रतिशत अंक अर्जित की है। परीक्षा के दौरान आंचल को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। दोनों हाथों की कमी के कारण भी आंचल का पढ़ाई से मन नहीं हटा। उसने अपने पैरों को हाथ बना लिया।

परीक्षा हाल में नियम के अनुसार आंचल को किसी तरह की मदद नहीं मिली, फिर भी उसने किसी तरह पैरों के सहारे परीक्षा दिया। कॉपी लिखने की अनुमति नहीं मिल, फिर भी उसने संभव को अ उसने पैरों के सहारे कापी लिखी। आंचल का कहना है कि वो आगे आईएएस की तैयारी करना चाहती है। उसका सपना है कि वो आईएएस अधिकारी बने।

HOT DEALS
  • Honor 7X 64GB Black
    ₹ 16999 MRP ₹ 17999 -6%
    ₹0 Cashback
  • Sony Xperia XZs G8232 64 GB (Warm Silver)
    ₹ 34999 MRP ₹ 51990 -33%
    ₹3500 Cashback

बता दें कि आचंल के लिए मुश्किल सिर्फ इतना नहीं था कि उसके दोनों हाथ नहीं है. बल्कि उसके घर के हालात भी काफी अच्छे नहीं थे। आंचल जिस इलाके में रहती है वो नक्सली प्रभावित है। इस वजह से भी उसको पढ़ाई-लिखाई में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

विद्या भारती महाविद्यालय के प्रिंसिपल मुघाटे ने कहा, “आंचल को कॉलेज की तरफ से बस की सुविधा दी जाती है, उनका घर 40 मिनट की दूरी पर है। शुरुआत में जब उनके पिता दाखिले के लिए यहां आए थे तो हम काफी चिंतित थे कि वो कैसे पढ़ाई करेगी। क्योंकि उसके दोनों हाथ कामयाब नहीं थे। लेकिन आचंल ने हम लोगों को गलत साबित कर दिया। उसने वो कर दिखाया जो किसी को उम्मीद नहीं थी। आंचल कॉलेज में सारे छात्र-छात्राओं के लिए प्रेरणा बन गई है।”

देखिए वीडियो -“2017-18 से फिर से शुरू होगी CBSE स्कूलों की दसवीं की बोर्ड परीक्षा”: प्रकाश जावडेकर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App