महाराष्ट्र: दूसरे दौर की वार्ता के बाद किसानों ने खत्म की हड़ताल, 70 फीसदी मांगों पर सरकार सहमत - Maharashtra farmers meeting CM Devendra Fadnavis: call off 2-day strike - Jansatta
ताज़ा खबर
 

महाराष्ट्र: दूसरे दौर की वार्ता के बाद किसानों ने खत्म की हड़ताल, 70 फीसदी मांगों पर सरकार सहमत

किसानों के आंदोलन की वजह से मुंबई की थोक मंडी में एक किलो आलू की कीमत 12 रुपए से बढ़कर 15 रुपए और एक किलो प्याज की कीमत 10 रुपए से बढ़कर 14 रुपए हो गई थी।

मीटिंग में मुख्यमंत्री ने किसानों की 70 फीसदी मांगें स्वीकार कर ली है। (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और किसानों के बीच एक और दौर की वार्ता राहत की खबर लेकर आई है। सीएम से मीटिंग के बाद किसानों ने आज (2 जून, 2017) सुबह हड़ताल खत्म करने का ऐलान किया है। रिपोर्ट के अनुसार मीटिंग में मुख्यमंत्री ने किसानों की 70 फीसदी मांगें स्वीकार कर ली है। साथ ही धरना प्रदर्शन करने वाले किसानों को आश्वसान दिया है कि उनकी मांगों को लिए एक कमिटी का गठन किया जाएगा। मीटिंग में मुख्यमंत्री ने किसानों को आश्वसन दिया की 31 अक्टूबर तक छोटे किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा। इसके साथ ही सरकार ने बिजली के बकाया बिल पर ब्याज माफ करने की भी बात कही।

साथ ही देवेंद्र फडणवीस सरकार ने किसानों को आश्वसन दिया कि हड़ताल के दौरान किसानों के ऊपर दंगे फैलाने के आरोपों को वापस लिय जाएगा। खबरों के अनुसार राज्य सरकार 20 जून को दूध की कीमतें बढ़ाने के लिए निर्णय लेगी। वहीं किसान आंदोलन के दौरान जिस किसान की मौत हुई है, उसकी सरकार आर्थिक मदद करेगी। आपको बता दें कि कर्ज माफी और फसलों के उचित समर्थन मूल्य को लेकर राज्य भर के किसान दो दिन से आंदोलन पर थे। उनके आंदोलन की वजह से दूध और सब्जी की सप्लाई पर बुरा असर पड़ा था।

किसानों के आंदोलन की वजह से मुंबई की थोक मंडी में एक किलो आलू की कीमत 12 रुपए से बढ़कर 15 रुपए और एक किलो प्याज की कीमत 10 रुपए से बढ़कर 14 रुपए हो गई थी। भिंडी के दाम दोगुने हो गए थे। साथ ही बैंगन के दाम भी 40 रुपए से बढ़कर 100 रुपए हो गए थे। किसानों के आंदोलन की वजह से महाराष्ट्र के दूसरे हिस्सों में भी जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया था, लेकिन अब आंदोलन खत्म होने से आम लोगों की जिंदगी फिर से पटरी पर लौटने की उम्मीद जताई जा रही है।

देखें वीडियो, Champions Trophy 2017: भारत VS पाकिस्तान, क्या भारत कर पाएगा पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App