सीएम देवेंद्र फडणवीस के होम टाउन में डबल मर्डर से सनसनी, बोरे में मिली क्राइम रिपोर्टर की मां और बेटी की लाश - maharashtra cm devendra fadnavis home town Nagpur witness double murder of crime reporter nagpur today mother daughter killed crime news - Jansatta
ताज़ा खबर
 

सीएम देवेंद्र फडणवीस के होम टाउन में डबल मर्डर से सनसनी, बोरे में मिली क्राइम रिपोर्टर की मां और बेटी की लाश

दोहरी हत्या की वारदात में नागपुर पुलिस ने दो संदिग्धों को हिरासत में लिया है। इस हत्या से नागपुर के लोग सकते में हैं। यह महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का गृह नगर है, जो राज्य के गृह विभाग की जिम्मेदारी भी संभालते हैं।

पत्रकार रविकांत कांबले की मां उषा एस. कांबले और उनकी बेटी राशि (फोटो-IANS)

महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस के गृह नगर नागपुर में एक डबल मर्डर से सनसनी मच गई। शहर में एक क्राइम रिपोर्टर की मां और नाबालिग बेटी रविवार (18 फरवरी) को मृत पाईं गईं। इनकी खून से सनी हुई लाश एक बोरे में भरी हुई थी। उषा एस. कांबले (54) और उनकी 18 महीने की पौत्री राशि शनिवार से लापता थीं। रविवार को शहर के सिताबुल्दी इलाके में एक स्कूल की इमारत के पीछे कुछ लोगों ने दोनों का शव देखा। नागपुर टाइम्स नाम के एक पोर्टल में क्राइम रिपोर्टर के तौर पर कार्यरत रविकांत कांबले ने बताया था कि वे शनिवार शाम रिहायशी इलाके दिघोरी के पास स्थित बाजार गई थीं, लेकिन घर लौट कर नहीं आईं। रविकांत कांबले की पत्नी पुलिस में कार्यरत है। उनकी खोजबीन शुरू करने के बाद उनके अगवा होने का संदेह जताया गया और रविवार को दोनों का शव मिला। उनका गला रेता गया था और शवों को एक बोरे में भरकर गटर में फेंक दिया गया था।हालांकि, अभी हत्या के पीछे का मकसद पता लगाया जा रहा है, पुलिस को संदेह है कि पेशेवर या निजी रंजिश के चलते हत्या को अंजाम दिया गया है।

इस दोहरी हत्या की वारदात में नागपुर पुलिस ने दो संदिग्धों को हिरासत में लिया है। इस हत्या से नागपुर के लोग सकते में हैं। यह महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का गृह नगर है, जो राज्य के गृह विभाग की जिम्मेदारी भी संभालते हैं।इस मामले में पुलिस के डिप्टी कमिश्रनर नीलेश भर्ने ने बताया कि यह महिला छोटी बच्ची के साथ आखिरी बार गणेश साहू नाम के किराना दुकानदार द्वारा उसी इलाके में शनिवार शाम 5 बजे देखी गई थी, पुलिस ने प्राथमिक जांच के बाद गणेश साहू को हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने कहा कि साहू ने महिला को 7 हजार रुपये दिये थे। यह रकम गणेश ने महिला से उधार ली थी। पुलिस के मुताबिक महिला सूद पर लोगों को पैसे देती थी। रिपोर्ट के मुताबिक साहू के घर के सामने एक बोलेरो गाड़ी रखी हुई थी। इस गाड़ी के भीतरी हिस्से में खून के निशान थे। पुलिस ने कहा कि वे लोग अभी भी इस बात की जानकारी कर रहे हैं कि क्या गाड़ी साहू के नाम से हैं और क्या गाड़ी में मिले खून के निशानों का इन हत्या से कुछ लेना-देना है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App