ताज़ा खबर
 

रेलवे ने इन स्टेशनों पर शुरू की फ्री अनलिमिटेड वाई-फाई की सुविधा

इस वाई-फाई की स्पीड 2mbps तक होगी। इसे एक ऐप के माध्यम से इस्तेमाल किया जाएगा।

Author Updated: May 22, 2017 4:06 PM
प्रतिकात्मक तस्वीर।

कोंकण रेलवे ने महाराष्ट्र के 28 रेलवे स्टेशनों पर अनलिमिटेड फ्री वाई-फाई की सर्विस शुरू की है। रेल मंत्रालय द्वारा शुरू की गई यह सर्विस कोलाड से मडुरे तक शुरू की है। रेल मंत्रालय का कहना है कि यह सुविधा लोगों को जरूरी जानकारी हासिल करने में सहायक होगी। साथ ही रेलवे स्टेशनों पर ट्रेन का इंतजार करते वक्त लोग अपने समय का सदुपयोग कर सकेंगे। भारतीय रेलवे ने इस सुविधा के लिए इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स सिस्कॉन और जॉइस के साथ करार किया है। यह स्मार्ट इंडिया बनाने की राह में एक और कदम है। जॉइसपॉट मोबाइल एप्लिकेशन 2Mbps स्पीड वायरलेस इंटरनेट प्रदान करता है। इसी के जरिए फ्री वाई-फाई की सुविधा दी जा रही है। फ्री वाई-फाई सर्विस कोलाड, मनगांव, वीर, कारांजादी, विनहेरे, दिवाणख़ावति, खेड, अंजनी, चिपलुन, कामत, सावार्दा, अरवली रोड, संगमेश्वर, उक्शी, भोके और रत्नागिरी पर दी जाएगी।

इसके अलावा निवासर, अदावलि, विलावडे, राजापुर रोड, वैभववाडी रोड, नंदगांव रोड, काणकावाली, सिंधुदुर्ग, कुदाल, जाराप, सावंतवाड़ी रोड और मडुरे भी शामिल हैं। बड़े स्टेशनों पर एक साथ 300 लोग और छोटे स्टेशनों पर 100 लोग इस सर्विस का फायदा उठा सकते हैं। वाई-फाई की सुविधा रेलवे स्टेशन और आस-पास के क्षेत्र में मिलेगी। इस सर्विस का फायदा उठाने के लिए यूजर को जॉयस्पॉट मोबाइल ऐप्लिकेशन डाउनलोड करना होगा। इसके बाद इसमें रजिस्टर करने के लिए अपना नाम और मोबाइल नंबर डालना होगा। इसके बाद ओटीपी आएगा। ओटीपी डालने के बाद इस सर्विस का फायदा उठाया जा सकता है। अभी इस सेवा का शुरूआती दौर है इसके तहत 28 स्टेशनों पर अनलिमिटेड फ्री वाई-फाई सुविधा दी जाएगी।

आपको बता दें कि आज (22 मई) आधुनिक सुविधाओं वाली तेजस एक्सप्रेस गोवा से मुंबई के बीच अपने पहले सफर के लिए रवाना होगी। करीब 200 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली तेजस ऐक्सप्रेस को रेल मंत्री सुरेश प्रभु हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। तेजस की अत्याधुनिक सुविधाओं में सीसीटीवी कैमरे, जीपीएस आधारित यात्री सूचना डिस्प्ले, एलईडी टीवी के अलावा चाय और कॉफी की वेंडिंग मशीन शामिल हैं। तेजस के दरवाजे भी मेट्रो की तरह हैं। मतलब दरवाजे सिर्फ स्टेशन आने पर ही खुलेंगे। भारतीय रेलवे की और ट्रेनों की तरह इसके दरवाजे मेनुअल नहीं हैं। इसके दरवाजे ऑटोमेटिक हैं। ट्रेन के सभी दरवाजे बंद हो जाने के बाद ही ट्रेन आगे बढ़ेगी।

रेलवे 'विकल्प स्कीम': 1 अप्रैल से देश भर में लागू होगी सुविधा, जानें जरुरी बातें, देखें वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 महाराष्ट्र सरकार पर भड़की कांग्रेस, कहा- ऐलान कर दो कि किसानों को मंत्रालय में नहीं घुसना चाहिए
जस्‍ट नाउ
X