ताज़ा खबर
 

शिवसेना के पोस्टर में मुस्लिमों से दुआ की दरख्वास्त! लोग बोले- बालासाहेब की आत्मा रो रही होगी

ब्लॉगर सोनम महाजन ने अपने ट्विटर हैंडल पर शिवसेना का पोस्टर डालते हुए लिखा - "उद्धव और आदित्य ठाकरे मुस्लिम तीर्थयात्रियों से शिव सेना के लिए प्रार्थना करने की सिफारिश कर रहे हैं।" सोनम के इस ट्वीट पर कई लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं और शिव सेना को खूब खरी-खोटी सुना रहे हैं।

Author मुंबई | Updated: February 27, 2018 3:25 PM
शिव सेना द्वारा इज्तिमा को लेकर जगह-जगह पोस्टर लगाए गए हैं। (Photo Source: Twitter)

महाराष्ट्र के औरंगाबाद में तीन दिन तक चलने वाले इज्तिमा को लेकर मुस्लिम समुदाय के लोग काफी उत्साहित हैं। शनिवार से जलगांव में आयोजित इज्तिमा के लिए देश और दुनिया भर से लोग यहां पहुंचेंगे। इसमें भारी संख्या में लोग हिस्सा ले सकते हैं, जिसके लिए आयोजकों ने हर प्रकार की सुविधा के इंतजाम किए हैं। वहीं, शिव सेना ने भी इज्तिमा में जाने वाले लोगों से दुआ की दरख्वास्त की है, जिसके बाद ट्विटर यूजर्स उद्धव ठाकरे और आदित्य ठाकरे को ट्रोल कर रहे हैं। शिव सेना द्वारा इज्तिमा को लेकर जगह-जगह पोस्टर लगाए गए हैं। इन पोस्टर्स पर बाल ठाकरे, उद्धव ठाकरे और आदित्य ठाकरे की फोटो लगी है, जिस पर लिखा है इज्तिमा में जाने वाले सभी भाइयों से दुआ दरख्वास्त।

इन पोस्टर को लेकर लोगों का कहना है कि यह देखकर आज बालासाहेब की आत्मा रो रही होगी। ब्लॉगर सोनम महाजन ने अपने ट्विटर हैंडल पर शिवसेना का पोस्टर डालते हुए लिखा – “उद्धव और आदित्य ठाकरे मुस्लिम तीर्थयात्रियों से शिव सेना के लिए प्रार्थना करने की सिफारिश कर रहे हैं।” सोनम के इस ट्वीट पर कई लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं और शिव सेना को खूब खरी-खोटी सुना रहे हैं। एक ट्विटर यूजर ने इस पोस्टर पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए लिखा – “हिंदू शेर स्वर्गीय श्री बाला साहेब ठाकरे जी की आत्मा यह देख कर रो रही होगी कि उनके बाद ये लोग भीख मांगने उतर गये, जिनको वो एक ललकार में पेशाब करवा देते थे।”

एक ने लिखा – “इनको अब दुआ भी नहीं बचा सकती।” एक ने लिखा – “आज पता चला शेर के जाने के बाद क्या हाल होता है।” एक ने लिखा – “यह बाला साहेब की शिवसेना नहीं है।” एक ने लिखा – “बाल ठाकरे जरूर स्वर्ग में आंसू बहा रहे होंगे।” इसी प्रकार कई लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए उद्धव ठाकरे को ट्रोल किया। आपको बता दें कि इज्तिमा के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं, क्योंकि कयास लगाए जा रहे हैं कि इस कार्यक्रम में लाखों की संख्या में लोग पहुंच सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्‍या!
X