ताज़ा खबर
 

महाराष्ट्र: इतनी बारिश कि विधानसभा में घुसा पानी, कटी बिजली, सत्र भी टला

देश के कई इलाकों में बरसात का मौसम अपने शबाब पर है। मॉनसून का पानी बरसा रहे मेघ चमक-दमक और हाई-प्रोफाइल जीवन शैली के लिए पहचाने जाने वाले कई महानगरों के खराब ड्रेनेज सिस्टम (जल निकासी व्यवस्था) की पोल खोल रहे हैं।

नागपुर विधानसभा परिसर में बारिश से हुआ जलभराव। (फोटो सोर्स- एएनआई)

देश के कई इलाकों में बरसात का मौसम अपने शबाब पर है। मॉनसून का पानी बरसा रहे मेघ चमक-दमक और हाई-प्रोफाइल जीवन शैली के लिए पहचाने जाने वाले कई महानगरों के खराब ड्रेनेज सिस्टम (जल निकासी व्यवस्था) की पोल खोल रहे हैं। लगातार भारी बारिश और जल निकासी न हो पाने के कारण शुक्रवार (6 जून) को महाराष्ट्र का नागपुर स्थित विधानसभा परिसर तालाब में तब्दील हो गया। लबालब पानी विधायकों के लिए छुट्टी का सबब बना। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विधानसभा अधिवेशन को रद्द कर दिया गया। सूत्रों के मुताबिक बारिश के कारण हुए जलभराव से महानगर और आसपास के बिजली घरों में भी पानी घुस गया है, जिसके चलते बिजली आपूर्ति रोकनी पड़ी है। पानी भर जाने और बिजली न होने की वजह से विधानसभा का सत्र फिलहाल सोमवार तक के लिए टाल दिया गया है। स्थानीय मीडिया के मुताबिक शहर का हाल भी कुछ ऐसा ही है, जगह-जगह पानी भर गया है और कहीं-कहीं सड़कें धंस गई हैं।

नागपुर विधानसभा परिसर। (फोटो- एएनआई)

स्थानीय मीडिया के मुताबिक शुक्रवार सुबह 10 बजे सदन की कार्यवाही शुरू होते ही विधानसभा अध्यक्ष हरिभाऊ बागडे ने बिजली आपूर्ति की समस्या के बारे में बताया और सत्र को सोमवार तक के लिए टाल दिया। इस समस्या ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और सरकार में उसकी सहयोगी शिवसेना को एक-दूसरे पर वार-पलटवार करने का एक और मौका दे दिया। शिवसेना के नेता सुनील प्रभु ने कहा कि अगर यही हाल मुंबई में हुआ होता तो शिवसेना के प्रभाव वाले मुंबई नगर निकाय की आलोचना हो रही होती और बृहमुंबई महानगरपालिक (बीएमसी) के खिलाफ जांच की मांग की जा रही होती। उन्होंने आरोप लगाया है कि नागपुर राज्य की दूसरी राजधानी है और महत्वपूर्ण शहर है, इसके नगर निगम को भाजपा चलाती है, बारिश की वजह से कोई अड़चन न पनपे इसलिए लिए यहां बुनियादी ढांचा मुहैया कराया जाना चाहिए था। विपक्ष के नेता धनंजय मुंडे ने भी इस जलभराव के लिए बीजेपी पर आरोप लगाया और कहा कि यह इतिहास का काला दिन है।

नागपुर शहर की एक तस्वीर। (फोटो- एएनआई)

स्थानीय मीडिया के मुताबिक नागपुर में गुरुवार रात से बारिश हो रही है। जलभराव के कारण स्थानीय लोगों में भी नगर निगम को लेकर गुस्सा पनप रहा है। खबर यह भी है कि शहर के पॉश इलाके भी जलभराव की समस्या से अछूते नहीं हैं और बिजली की समस्या से यहां भी लोगों को दो-चार होना पड़ रहा है। समाचार एजेंसी एएनआई ने विधानसभा परिसर में जलभराव की कुछ तस्वीरें ट्वीट की हैं। ये तस्वीरें बारिश के पानी से प्रभावित परिसर की खस्ता हालत साफ बयां करती दिखती हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App