ताज़ा खबर
 

Mumbai: बेस्ट कर्मचारियों के करीब 33 हजार कर्मचारियों की हड़ताल से परेशान यात्री, सड़क पर नहीं उतरीं 1812 बसें

भारत बंद के चलते मुंबई में यातायात व्यवस्था बुरी तरह से प्रभावित हुई है। बता दें कि मुंबई की बस सर्विस बेस्ट ने भी भारत बंद हड़ताल का समर्थन किया है।

हड़ताल में खड़ी बस, फोटो सोर्स- ANI

भारत बंद के चलते मुंबई में यातायात व्यवस्था बुरी तरह से प्रभावित हुई है। बता दें कि मुंबई की बस सर्विस बेस्ट ने भी भारत बंद हड़ताल का समर्थन किया है। बेस्ट के करीब 33 हजार से अधिक कर्मचारियों की हड़ताल से जनता को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बुधवार को भी जारी हड़ताल को देखते हुए सेंट्रेल रेल सीपीआरओ ने अतिरिक्त बस सर्विस की घोषणा की है।

परेशान है जनता: जानकारी के मुताबिक हड़ताल की वजह से करीब 1812 बेस्ट बसें सड़कों से गायब हैं। ऐसे में यात्रियों को कैब, टैक्सी और ऑटो का सहारा लेना पड़ा।लोगों के मुताबिक मौके का फायदा उठाते हुए उन लोगों ने भी जमकर किराया वसूला। मुंबईकरों का कहना है कि ये हड़ताल बंद होनी चाहिए और जल्द से जल्द ये मामला सुलझना चाहिए।

25 लाख लोग हुए प्रभावित: बता दें कि इस हड़ताल से विद्यार्थी, मरीज और हर दिन सफर करने वाले करीब 25 लाख लोगों पर असर पड़ा। वहीं जानकारी के मुताबिक, सोमवार देर रात तोड़फोड़ में 10 बसों पर भी नुकसान पहुंचाया गया। वहीं वडाला राममंदिर के पास दो, धारावी के पास, मलाड पश्चिम में, मागाठाणे डिपो के पास, मालाड पठानवाडी जैसे इलाकों में भी घटनाएं सामने आईं।

क्या हैं मांगें:

– बेस्ट बजट का बीएमसी बजट में विलय, जिससे फंड की कमी से जूझ रहे कॉर्पोरेशन की स्थिति सुधर सके।
– दो साल से अटका वेतन करार तत्काल करना।
– कर्मचारी सेवा आवास और भर्तियों को लेकर भी मांग
– 2007 के बाद कार्यरत कर्मचारियों को मास्टर ग्रेड पर फिक्सेशन

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App