ताज़ा खबर
 

अक्टूबर से आम लोगों के लिए खुलेगा मुंबई का ऐतिहासिक गवर्नर हाउस, पहले विश्वयुद्ध में बने थे यहां के बंकर, ये हैं खूबियां

महाराष्ट्र के राज भवन को 'बंकर म्यूजियम' में बदल दिया गया है। बता दें कि अक्टूबर के पहले सप्ताह से इसे लोगों के लिए खोल दिया जाएगा।

Author मुंबई | Updated: August 20, 2019 10:11 PM
ऐतिहासिक गवर्नर हाउस का उद्घाटन करते राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (फोटो- @Maharashtra.gov.in)

महाराष्ट्र के मुंबई-वल्केश्वर क्षेत्र में करीब 50 एकड़ में फैले महाराष्ट्र राज भवन को अक्टूबर के पहले सप्ताह में आम जनता के लिए खोल दिया जाएगा। बता दें कि गवर्नर हाउस के नाम से प्रचिलित इस भवन को अंग्रेजों ने 1802 में बनवाया था। इस हाउस में अंग्रेजों द्वारा बनाए गए बंकर भी पाए गए हैं। अब इस हाउस को और इसमें बने बंकरों को आम जनता के लिए खोला जा रहा है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रविवार (18 अगस्त) को इस ‘बंकर म्यूजियम’ हाउस का उद्घाटन किया। बता दें कि इसे देखने के लिए लोगों को ऑनलाइन ही टिकट लेना होगा।

जल्द ही खुलेगा म्यूजियमः इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रविवार (18 अगस्त) को बंकर का उद्घाटन किया। आने वाले महीने में यह लोगों के लिए खोल दिया जाएगा। गवर्नर हाउस में बने बंकर को 15 हजार वर्ग फुट में बनाया गया है जिसमें 13 कमरे हैं। बता दें कि इस बंकर में सभी सुविधाएं रहेंगी। इसे इस तरह से डिजाइन किया गया है कि उसमें आग लगने से पाइप के माध्यम से पानी आग को बुझाया भी भी जा सकेगा। बंकर में घुटन से बचने के लिए बड़ी-बड़ी खिड़कियों को भी लगाया गया है।

National Hindi News, 20 August 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की तमाम अहम खबरों के लिए क्लिक करें

Delhi Yamuna River Flood Alert Live Updates: दिल्ली में बाढ़ का खतरा, ताजा जानकारी के लिए क्लिक करें

क्या है पूरा मामलाः गवर्नर हाउस को जल भूषण के नाम से भी जाना जाता है जिसका इतिहास 200 साल पुराना है। बता दें कि इसके देखरेख के लिए करीब 250 स्टाफ हैं। यह हाउस को मरम्मत कर उसे म्यूजियम में बदला गया है। सन 1885 में जब गवर्नर हाउस को परेल से मालाबार प्वाइंट में शिफ्ट किया गया तब गवर्नरों द्वारा इसे आधिकारिक निवास के लिए इस्तेमाल किया गया था। बता दें कि पहले विश्व युद्ध के दौरान इस हाउस में बंकर बनाए गए थे ताकि दुश्मनों से रक्षा हो सके।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Yamuna Floods: हथिनीकुंड से एक ही दिन छूटा 8 लाख क्यूसेक पानी, मथुरा के 175 गांवों पर बाढ़ का खतरा, शुरू हुईं तैयारियां
2 UP Police को वीकली ऑफः कानपुर में 700 सिपाही-दरोगा छुट्टी पर, लेकिन इमरजेंसी कॉलिंग पर 15 मिनट में नहीं पहुंचे तो होगा एक्शन
3 Delhi Yamuna River Flood Alert Updates: हथिनीकुंड से छूटे पानी ने बढ़ाई मुसीबत, दिल्ली में निगम बोध घाट, किसान कॉलोनी समेत कई इलाके डूबे