scorecardresearch

राज ठाकरे उधार का सिंदूर नहीं लेंगे, पैनलिस्ट बोले- फडणवीस का सीएम बनना तय पर वो दूध के जले, छाछ भी फूंक कर पी रहे

Maharashtra Political Crisis: पैनलिस्ट अशोक वानखेड़े ने कहा कि एक बात तो तय है कि उद्धव की सरकार गई। फडणवीस की सरकार बनेगी।

maharashtra political crisis | devendra fadnavis | maharashtra news
महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस। ( फोटो सोर्स: @AHindinews)।

महाराष्ट्र में चल रहे सियासी सत्ता संग्राम के बीच एक टीबी डिबेट के दौरान पैनलिस्ट अशोक वानखेड़े ने कहा कि एक बात तो तय है कि उद्धव की सरकार गई। फडणवीस की सरकार बनेगी और राज ठाकरे उधार का सिंदूर कभी नहीं लेंगे। उन्होंने कहा कि फडणवीस को सरकार बनाने में थोड़ा समय लगेगा। फडणवीस दूध को फूंक-फूंक कर पी रहे हैं। जुलाई तक बीजेपी की सरकार बन जाएगी।

संविधान विशेषज्ञ एसके शर्मा ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ऑब्जर्वर नियुक्त कर सकता है और पार्टी Whip के खिलाफ वोट करने वाले विधायकों को 15 दिन के अंदर नहीं निकाल सकती है।

भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि आज राज्यपाल जी को ई-मेल के माध्यम से और प्रत्यक्ष तौर पर हमने पत्र दिया है, जिसमें कहा है कि राज्य में जो परिस्थिति दिखाई पड़ती है। इसमें शिवसेना के 39 विधायक बाहर हैं और लगातार कह रहे हैं कि हम कांग्रेस, NCP की सरकार में नहीं रहना चाहते। उन्होंने कहा कि इसका मतलब ये 39 विधायक सरकार के साथ नहीं हैं या महा विकास अघाडी को समर्थन नहीं देना चाहते। राज्यपाल को हमने कहा है चूंकि सरकार अल्पमत में दिखाई पड़ती है इसलिए तुरंत सरकार को निर्देश दिया जाए कि मुख्यमंत्री फ्लोर टेस्ट करें और अपना बहुमत सिद्ध करें।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से गुवाहाटी में फंसे विधायकों को लेकर हर दिन नई जानकारी सामने आ रही है. शिवसेना परिवार के मुखिया के रूप में मैं आपकी भावनाओं का सम्मान करता हूं और अगर आप आगे आकर बोलेंगे तो हम कोई रास्ता निकाल लेंगे।
ठाकरे ने गुवाहाटी में पार्टी विधायकों से चर्चा करने की अपील की और कहा कि आप में से कई लोग हमारे संपर्क में हैं, आप अभी भी दिल से शिवसेना में हैं, कुछ विधायकों के परिवार के सदस्यों ने भी मुझसे संपर्क किया और अपनी भावनाएं बताई।

महाराष्ट्र मंत्री आदित्य ठाकरे ने कहा कि मुझे लगता है कि यही राजनीतिक सर्कस रुकना चाहिए, क्योंकि सबको पता है कि देश में लोकशाही है कि नहीं इस पर बड़ा सवाल आ रहा है। आज भी हमारे सीएम ने अपील कि जो हमारे वहां फंसे हुए विधायक हैं उन्हें यहां आने का मौका दिया जाए।

NCP नेता सुप्रिया सुले ने कहा कि उनका(एकनाथ शिंदे) प्रस्ताव जो भी हो। आज उद्धव ठाकरे ने जो अपील की है वो एक बड़े भाई की तरह की है। जो भी समस्या है घर में होनी चाहिए, अगर वो आकर उद्धव से बात कर सकें तो समाधान निकल सकता है। बात होना जरूरी है।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X