ताज़ा खबर
 

Mumbai Bandh: प्रदर्शन में हाथ में पत्थर लिए दिखा बच्चा, पूछने पर दिया हैरान करने वाला जवाब

Maharashtra Mumbai Bandh, Bhima Koregaon Violence News: दलित पार्टियों का मराठा समूहों के खिलाफ प्रदर्शन बुधवार को भी जारी रहा।
पुणे के पास स्थित भीमा-कोरेगांव में भड़की जातीय हिंसा ने राजधानी मुंबई सहित पूरे महाराष्ट्र को ठप्प कर दिया है।

पुणे के पास स्थित भीमा-कोरेगांव में भड़की जातीय हिंसा ने राजधानी मुंबई सहित पूरे महाराष्ट्र को ठप्प कर दिया है। ठाणे में 4 जनवरी तक के लिए धारा 144 लागू कर दी गई है। दलित पार्टियों का मराठा समूहों के खिलाफ प्रदर्शन बुधवार को भी जारी रहा। इस दौरान एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें एक बच्चा हाथ में पत्थर लिए नजर आ रहा है। यह वीडियो मराठी में है। इसमें बच्चा कहता है कि वह मराठाओं को मारने जा रहा है। एक शख्स ने बच्चे से मराठी भाषा में जो बातचीत की, वह हम आपको हिंदी में बता रहे हैं:

वीडियोग्राफर: आपके हाथ में ये पत्थर क्यों हैं?
बच्चा: लोगों के साथ हमला करने के लिए।
वीडियोग्राफर: आप लोगों पर हमला क्यों करना चाहते हैं?
बच्चा: क्योंकि हम पर भी हमला हो चुका है।
वीडियोग्राफर: किसने हम पर हमला किया?
बच्चा: उन लोगों ने।
वीडियोग्राफर: किन लोगों ने?
बच्चा: (कोई पीछे से बच्चे से कहता है, ‘मराठा’), इसके बाद बच्चा कहता है-मराठा लोगों ने।
वीडियोग्राफर: तो अब आप क्या करोगे?
बच्चा: मैं उन्हें मार डालूंगा।
वीडियोग्राफर: अब आप कहां जा रहे हो?
बच्चा: उन्हें मारने के लिए।
वीडियोग्राफर: आप पुणे क्यों आए थे?
बच्चा: सम्मान जाहिर करने।
वीडियोग्राफर: किसे?
बच्चा: डॉ.भीमराव आंबेडकर
वीडियोग्राफर: अच्छा।

लोगों का गुस्सा भड़का: यह वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर लोगों का गुस्सा भड़क उठा। @RitikaR13900007 नाम की यूजर ने लिखा, ये लोग आखिर इन समस्याओं में बच्चों को शामिल क्यों करना चाहते हैं। यह बढ़ते बच्चों को बड़ा होते दिखाता है। भारत को विभाजित किया जा सकता है, क्योंकि कुछ लोग जिनका इससे संबंध नहीं है, उन्हें सहानुभूति मिल रही है।

@prashantanimje ने लिखा कि भारतीय समाज इतना नीचे गिर चुका है कि एक बच्चे को यह नहीं पता कि वह कौन है। वह अन्य लोगों को मारना चाहता है। यह शर्मनाक है और हम सभी को खुद पर शर्म आनी चाहिए कि हम मासूम पीढ़ी के साथ क्या कर दिया है। भारत सोचो, इससे पहले कि देर हो जाए। @smjethwa ने लिखा, यह देखकर बहुत दुख हुआ। क्या यही बदलाव हम भारत में देखना चाहते हैं। @gauravnit007 ने लिखा, मुझे लगा था कि महाराष्ट्र विकसित हो चुका है, लेकिन अंदर से हम में अब भी वहीं नफरत और हिंसा भरी हुई है। शर्मनाक महाराष्ट्र।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. Fortis Hospital
    Jan 8, 2018 at 1:19 pm
    फोर्टिस अस्पताल के डॉक्टर थॉमस, हम आम जनता को सूचित कर रहे हैं कि हमें 95 लाख रुपए के पुरस्कार राशि के लिए किटिडा की आवश्यकता है। दाता को हमारी ायता लाइन के माध्यम से संपर्क करना चाहिए :( fortishospital101 संपर्क संख्या: 9 9 6565685517
    (0)(0)
    Reply