ताज़ा खबर
 

शादी के बाद यहां बुजुर्ग करवाते हैं वर्जिनिटी टेस्ट, इस जोड़े ने बदल दी हवा

कंजरभाट समुदाय में सुहागरात पर दुल्हन का वर्जिनिटी टेस्ट होता है। गांव की पंचायत दुल्हा-दुल्हन को सफेद चादर देती है, जिसके बाद वे दूल्हा-दुल्हन का इंतजार उनके कमरे के बाहर करते हैं। अगले दिन अगर चादर पर लाल धब्बे मिलते हैं, तब दुल्हन इस टेस्ट में पास की जाती है, जबकि निशान न मिलने पर उस पर किसी और से संबंध बनाने के आरोप लग जाते हैं। वर्जिनिटी टेस्ट के लिए दुल्हन की समहति नहीं ली जाती है।

विवेक और ऐश्वर्या की शादी 12 मई को हुई थी। उन्होंने वर्जिनिटी टेस्ट की प्रथा के खिलाफ जाकर शादी की है। (फाइल फोटो)

कंजरभाट समुदाय में शादी के बाद बुजुर्ग नई नवेली दुल्हनों का वर्जिनिटी टेस्ट करवाते हैं। ऐसा सालों से चली आ रही प्रथा के तहत किया जाता है। मगर हाल ही में एक जोड़े ने इस प्रथा को दरकिनार कर शादी की है। शादी से पहले जोड़े ने इस प्रथा पर खुलकर अपना विरोध जताया था, लिहाजा अपने इलाके में इस नए नवेले दंपति ने परंपरा को लेकर हवा का रुख मोड़ दिया है।

यह मामला महाराष्ट्र के पुणे से जुड़ा हुआ है। शनिवार (12 मई) को पिंपरी में विवेक तमाईचिकर की ऐश्वर्या भट के साथ शादी हुई थी। समरोह के दौरान पुलिस बल मौजूद था, जिसके लिए राज्य महिला आयोग की ओर से पुणे पुलिस को एक चिट्ठी लिखी गई थी, ताकि कार्यक्रम के दौरान किसी प्रकार की अप्रिय घटना का सामना न करना पड़े। विवेक और ऐश्वर्या, दोनों ही कंजरभाट समुदाय से आते हैं।

शादी के बाद सफेद चादर पर सुहागरात, खून के दाग न मिलने पर लड़की का उत्पीड़न करती है पंचायत!

विवेक मुंबई के टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज से पढ़े हैं। वह एक वॉट्स एप ग्रुप भी चलाते हैं, जिसका नाम ‘स्टॉप द वी-रिचुअल’ है। यह ग्रुप समुदाय में चलायमान वर्जिनिटी टेस्ट की प्रथा के खिलाफ आवाज उठाता है। ग्रुप में नौजवानों से लेकर बुजुर्ग तक शामिल हैं और वे समय-समय पर इस मसले पर अपनी राय जाहिर करते रहते हैं।

वहीं, ऐश्वर्या पूर्व पीसीएमसी मेयर कविचंद भट्ट की पोती है। पुरानी परंपरा को लेकर उसने भी अपनी नाराजगी जाहिर की थी। विवेक और ऐश्वर्या ने इसके अलावा अपनी शादी के कार्ड पर एक खास अपील की थी। उन्होंने इस के जरिए मेहमानों से शादी में आने के लिए कहा था, ताकि शादी से पहले वर्जिनिटी वाली प्रथा के खिलाफ उनकी जंग को मजबूती मिल सके।

16 साल की लड़कियों का वर्जिनिटी टेस्ट कराएगा यह मुल्क 

विवेक ने बताया, “समुदाय को भले ही यह पसंद न आया हो। लेकिन मेरे परिजन और ऐश्वर्या ने इसका समर्थन किया है। शादी शांतिपूर्ण ढंग से हुई। हमारे वॉट्स ग्रुप के करीब 25 सदस्य इस दौरान शामिल हुए। उनके अलावा कई सरकारी अधिकारी भी शादी में शरीक हुए थे।”

क्या होता है प्रथा के तहत? कंजरभाट समुदाय में सुहागरात पर दुल्हन का वर्जिनिटी टेस्ट होता है। गांव की पंचायत दुल्हा-दुल्हन को सफेद चादर देती है, जिसके बाद वे दूल्हा-दुल्हन का इंतजार उनके कमरे के बाहर करते हैं। अगले दिन अगर चादर पर लाल धब्बे मिलते हैं, तब दुल्हन इस टेस्ट में पास की जाती है, जबकि निशान न मिलने पर उस पर किसी और से संबंध बनाने के आरोप लग जाते हैं। वर्जिनिटी टेस्ट के लिए दुल्हन की समहति नहीं ली जाती है।

Follow Jansatta Coverage on Karnataka Assembly Election Results 2018. For live coverage, live expert analysis and real-time interactive map, log on to Jansatta.com

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App