ताज़ा खबर
 

महाराष्ट्र ग्राम पंचायत चुनाव: महाविकास अघाड़ी और भाजपा दोनों ने किये अपने-अपने जीत के दावे, कांग्रेस नेता का दावा- 80 फीसदी सीटें हमने जीतीं

राकांपा के एक और नेता तथा राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख और महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष बालासाहेब थोराट ने भी महा विकास आघाड़ी की जीत का दावा किया है।

maharashtraमतगणना अभी भी जारी है।

महाराष्ट्र में बीते सप्ताह हुए ग्राम पंचायत चुनाव के नतीजे सोमवार को सामने आए, जिसमें 1.25 लाख उम्मीदवारों को जीत हासिल हुई है। राज्य की सत्ता पर काबिज महा विकास आघाड़ी (एमवीए) ने जहां चुनाव में ”बड़ी जीत” का दावा किया है वहीं विपक्षी भाजपा ने कहा कि वह और मजबूत बनकर उभरी है। पंचायत चुनाव किसी पार्टी के चुनाव चिन्ह पर नहीं लड़े जाते, अलबत्ता राजनीतिक दलों या स्थानीय नेताओं द्वारा समितियों का गठन जरूर किया जाता है।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेताओं ने दावा किया कि सोमवार को हुई मतगणना अनुसार शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस के गठबंधन एमवीए को चुनाव में बड़ी जीत हासिल हुई है। वहीं दूसरी और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस ने कहा कि भाजपा इन चुनावों में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। महाराष्ट्र के कुल 36 में से 34 जिलों में 12,711 ग्राम पंचायतों के लिये 15 जनवरी को मतदान हुआ था। कुल 1,25,709 सीटों पर हुए चुनाव के लिये 2,14,880 उम्मीदवार मैदान में थे।

राज्य के निर्वाचन आयोग ने कहा कि नामांकन पत्रों की जांच और नाम वापसी के बाद चुनाव मैदान में कुल 2,41,598 उम्मीदवार थे। 26,718 उम्मीदवारों के सामने कोई प्रतिद्वंद्वी नहीं था, लिहाजा उन्हें निर्विरोध चुन लिया गया। राकांपा के वरिष्ठ नेता तथा उप मुख्यमंत्री अजित पवार ने पुणे में पत्रकारों से कहा, ”मेरी जानकारी के अनुसार, ग्राम पंचायत चुनाव महा विकास आघाड़ी के पक्ष में रहे। कांग्रेस, शिवसेना और राकांपा के कार्यकर्ताओं ने जीत हासिल की है। इनमें से अधिकतर स्थानों पर कांग्रेस, राकांपा और शिवसेना ने अपने-अपने गढ़ों में अपनी सीटें बरकरार रखीं। मैं इस सफलता के लिये सभी सदस्यों को बधाई देता हूं। ”

महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष बालासाहेब थोराट ने कहा कांग्रेस ने करीब 4000 से ज्यादा ग्राम पंचायत की सीटें जीती हैं। थोराट ने कहा कि 80 प्रतिशत सीटें महा विकास अघाड़ी ने जीती हैं। बीजेपी को गलत आंकड़े बताने के बजाय अपनी हार मान लेनी चाहिए।

राकांपा के एक और नेता तथा राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख और महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष बालासाहेब थोराट ने भी महा विकास आघाड़ी की जीत का दावा किया है। हालांकि विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष देवेन्द्र फड़णवीस ने कहा, ”एमवीए में शामिल पार्टियों के साथ आने से हमें अपने विस्तार के लिये बहुत जगह मिली है। भाजपा ग्राम पंचायत चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है।”

अब तक आए चुनाव परिणामों के आधार पर पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस का दावा है कि भाजपा को अभूतपूर्व सफलता मिल रही है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल के अनुसार, भाजपा ने 6000 से अधिक ग्राम पंचायतों में सफलता हासिल की है।

Next Stories
1 PK साबित होंगे गलत? BJP को मिल सकती हैं 100 से अधिक सीटें- ABP-C Voter Survey
2 ममता को मिला सहारा! बंगाल चुनाव से पहले बोले अखिलेश- BJP को हराने के लिए TMC को देंगे समर्थन
3 ममता को हराऊंगा या ले लूंगा सियासत से संन्यास- TMC चीफ के नंदीग्राम से लड़ने के फैसले पर BJP के शुभेंदु का ऐलान
ये पढ़ा क्या?
X